Chhatarpur : दुआओं का असर- बोरबेल से सुरक्षित बाहर आई बच्ची, हालत स्थिर

Chhatarpur : आरएस प्रजापति ने कहा बचाव अभियान शाम 4 बजे (गुरुवार) से दोपहर 12:30 बजे (शुक्रवार) तक चला।

छतरपुर, संजय अवस्थी। मध्य प्रदेश (MP) के छतरपुर (chhatarpur) जिले में गुरुवार को 15 फीट के बोरवेल में गिरे एक साल के बच्चे को करीब छह घंटे के ऑपरेशन के बाद सुरक्षित निकाल लिया गया है. शिशु को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उसकी हालत अभी ‘स्थिर’ है।

दरअसल बच्ची को सकुशल बाहर निकालने में प्रशासन कामयाब,हुआ है। बच्ची को लेकर स्वास्थ्य विभाग की टीम जिला अस्पताल रवाना हुई है। जहाँ उसकी हालत अभी ‘स्थिर’ बनी हुई है। 9 घंटे चली रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद बच्ची सुरक्षित बोरवेल से बाहर निकला गया।मेडिकल टीम बच्ची बच्ची का स्वास्थ परीक्षण कर रही है।

Read More : टीकाकरण में फिर बना राष्ट्रीय रिकार्ड, सीएम शिवराज ने कहा धन्यवाद मध्य प्रदेश

आरएस प्रजापति ने कहा बचाव अभियान शाम 4 बजे (गुरुवार) से दोपहर 12:30 बजे (शुक्रवार) तक चला। बच्चे की हालत अभी स्थिर है। हमने सिलेंडर के जरिए ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित की, जबकि बच्चा बोरवेल के अंदर फंसा था। बचाव अभियान में सेना के जवानों, चिकित्सक ने भी स्थानीय पुलिस और जिला प्रशासन की तरफ मदद का हाथ बढ़ाया था।

मां के मुताबिक दोपहर में वह बच्चे को अन्य बच्चों के साथ खुले मैदान में खेलने के लिए छोड़ गई थी। एक बच्चा आया और मुझे बताया कि मेरा बच्चा बोरवेल में गिर गया है। जैसे ही मैं यहां वापस आया मैंने उसके रोने की आवाज सुनी। मैंने पास के सभी लोगों को फोन किया और घटना की जानकारी दी। अधिकारियों ने आकर बचाव अभियान शुरू किया।

बच्ची के सकुशल बोरबेल से बाहर आने पर सीएम शिवराज और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बचाव दल सहित सभी का आभार और अभिनंदन किया है। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मासूम दिव्यांशी की जीवन की रक्षा के लिए ईश्वर का बहुत-बहुत आभार,बिटिया दिव्यांशी को बोरवेल से सुरक्षित बाहर निकालने पर छतरपुर जिला प्रशासन एवं रेस्क्यू टीम के हर सदस्य का हृदय से आभार एवं अभिनंदन किया।