बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र शास्त्री को जान से मारने की धमकी देने वाला गिरफ्तार, लॉरेंस बिश्नोई गैंग के नाम से किया था ईमेल

Atul Saxena
Updated on -
Bageshwar Sarkar , Dhirendra Shastri

Threatened to kill Dhirendra Shastri :  बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र शास्त्री को जान से मारने की धमकी देने वाले व्यक्ति को छतरपुर पुलिस ने बिहार की राजधानी पटना से गिरफ्तार कर लिया है, शातिर आरोपी ने बागेश्वर धाम आश्रम के ईमेल एड्रेस पर लॉरेंस बिश्नोई गैंग के नाम से मेल भेजा और 10 लाख रुपये की फिरौती मांगी और नहीं देने पर धीरेंद्र शास्त्री को जान से मारने की धमकी दी थी।

आरोपी ने लॉरेंस बिश्नोई गैंग के नाम से किया था मेल 

मामला अक्टूबर का है जब बागेश्वर धाम के मुख्य प्रबंधन समिति के सदस्य निशांत नायक ने बमीठा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि 19 अक्टूबर को दिन में 12 बजे के करीब आश्रम के ऑफिशियल ईमेल आईडी पर एक मेल आया था इस मेल में 10 लाख रुपये की मांग की गई और नहीं देने पर धीरेंद्र शास्त्री को जान से मारने की धमकी दी थी।

पुलिस ने आरोपी को कहाँ से गिरफ्तार किया? 

पुलिस ने मामले की गंभीरता को समझते हुए इसे दबाकर रखा और जाँच में ले लिया, शुरूआती जाँच में ही सामने आ गया कि मामला संदिग्ध है, पुलिस ने साइबर एक्सपर्ट से इसकी जाँच कराई और मेल भेजने वाले आरोपी को बिहार की राजधानी पटना से गिरफ्तार कर ले आई, पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है कि उसने ऐसा क्यों किया ?

कौन है लॉरेंस बिश्नोई ?

आपको बता दें कि गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का जन्म 12 फरवरी 1993 में पंजाब के फिरोजपुर जिले के एक गाँव में हुआ था। पिता हरियाणा पुलिस में सिपाही थे। लॉरेंस ने डीएवी कॉलेज चंडीगढ़ से पढ़ाई की, 2011 में उसकी मुलाकात पंजाब यूनिवर्सिटी कैम्पस काउन्सिल में अन्य गैंगस्टर गोल्डी बरार से हुई, लॉरेंस यूनिवर्सिटी की राजनीति में शामिल हो गया और धीरे धीरे अपराध करने लगा। उसने पंजाब यूनिवर्सिटी से एलएलबी भी की लेकिन फिर पूरी तरह से अपराध की दुनिया में शामिल हो गया। अभी ये जेल में बंद है , इस पर हत्या, जान से मारने की धमकी जैसे दर्जनों केस दर्ज हैं। कहते हैं इसके गैंग में करीब 700 शार्प शूटर्स हैं जिनसे ये अपराध करवाता है। सलमान खान को जान से मारने की धमकी देने के बाद ये बहुत चर्चा मेंआया ,पंजाबी गायक सिद्धू मूसावाला की हत्या में भी लॉरेंस बिश्नोई गैंग का नाम आया, अभी हाल ही में गैंग के शूटर्स ने श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुक्ग्देव सिंह गोगामेड़ी की हत्या की है।

छतरपुर से सुबोध त्रिपाठी की रिपोर्ट 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News