अमरवाड़ा उप चुनाव: जीतू पटवारी बोले- ये अपमान का बदला लेने और कमलनाथ जी का सम्मान बचाने का चुनाव है

Atul Saxena
Published on -
Jitu Patwari Amarwara

Amarwara Assembly bye election : मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले की अमरवाड़ा विधानसभा के लिए होने जा रहे उप चुनाव के लिए आज शाम 6 बजे प्रचार थम गया, शोर थमने से पहले कांग्रेस के दिग्गज नेता अमरवाड़ा विधानसभा के सिंगोडी पहुंचे और यहाँ आमसभा को संबोधित किया, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कार्यकर्ताओं और क्षेत्र की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि आपका अपमान हुआ है, इस क्षेत्र के विकास के लिए कमलनाथ जी ने खून पसीना एक किया है इसलिए ये अपमान बदला लेने और कमलनाथ का सम्मान बचाने का चुनाव है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी आज मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रभारी भँवर जितेंद्र सिंह, नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार, पूर्व सांसद नकुलनाथ, सहप्रभारी संजय कपूर , पूर्व मंत्रीद्वय सुखदेव पाँसे , लखन घनघोरिया, पूर्व विधायक संजय शर्मा के साथ अमरवाडा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी धीरन शाह जी के समर्थन में सिंगोडी में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे।

भाजपा की वाशिंग मशीन में जाते ही कमलेश शाह बेदाग हो गए 

जीतू पटवारी ने कांग्रेस के टिकट पर विधायक बने कमलेश शाह के पार्टी छोड़ने और भाजपा में शामिल होने पर तंज कसे, जीतू पटवारी ने कहा कि  भारतीय जनता पार्टी वो वॉशिंग मशीन है जिसमें शामिल होने पर हर नेता के तमाम दाग धुल जाते हैं यही अमरवाड़ा में भी हुआ है, कमलेश शाह के करोड़ों रुपये के घोटाले को भाजपा में जाते ही ज़मींदोज़ कर दिया गया लेकिन वो जनता की अदालत में नहीं बचने वाले, जनता उन्हें सबक़ सिखाने हेतु तैयार है।

अमरवाड़ा सीट जीतकर कमलनाथ जी का सम्मान वापस दिलाना है 

जीतू पटवारी ने कहा कि छिन्दवाड़ा लोकसभा की अमरवाड़ा विधानसभा सहित सभी विधानसभा में कमलनाथ जी ने अद्भुत विकास किया लेकिन हम लोग उनके सम्मान को नहीं बचा पाएँ कहीं ना कहीं हम सबमें ये आत्मविश्वास था कि कमलनाथ जी तो हार नहीं सकते लकिन जो हुआ वो आपके सामने है लेकिन याद रखिये ये आपका अपमान है, आपने जिसे वोट दिया उसने आपको धोखा दे दिया।  आज अमरवाड़ा विधानसभा का उपचुनाव लोकतंत्र और जनमत में अपमान का बदला लेने के साथ ही कमलनाथ जी के सम्मान का चुनाव है, हम सभी को इसमें अटूट मेहनत कर कांग्रेस का परचम लहराना है।

 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News