ज्योतिरादित्य सिंधिया के छिंदवाड़ा दौरे पर कांग्रेस का विरोध शुरू, कही यह बात

परासिया, विनय जोशी। नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) आगामी 18 अगस्त को छिंदवाड़ा (Chhindwara) आ रहे हैं। लेकिन उनके आने के पहले ही कांग्रेस (Congress) ने सिंधिया का जमकर विरोध शुरू कर दिया है। इसके पूर्व जिला कांग्रेस अध्यक्ष और विधायक ने कांग्रेस कार्यलय का उद्घाटन किया और सभा को संबोधित करते हुए केंद्र व राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए नेताओ ने कार्यकर्ताओं को आगामी चुनाव के लिए तैयार रहने को कहा।

यह भी पढ़ें…Chhindwara: अपनी मांगों को लेकर जिला और ग्राम पंचायत के कर्मचारियों ने विधायक को सौंपा ज्ञापन

सोमवार को परासिया में जिला कांग्रेस अध्यक्ष विश्वनाथ ओकटे ने कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा कि पूर्व में सिंधिया का परिवार अंग्रेजों का दलाल रहा है। इसके बाद कमलनाथ जब प्रदेश के मुख्यमंत्री थे तो उन्होंने कई जन कल्याणकारी नीतियां बनाई। लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा के हाथों बिक गए और दलाल बन कर उन्होंने कांग्रेस की सरकार गिरा दी। जिलाध्यक्ष का कहना था कि कमलनाथ (Kamal Nath) के गढ़ में आने से पहले सिंधिया को 10 बार सोचना होगा। सिंधिया के आने पर कांग्रेस उनका पुरजोर विरोध करेगी। परासिया विधायक सोहनलाल वाल्मीक ने अपने उद्बोधन में केंद्र एवं राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ कार्यकर्ताओं से एकजुट होकर संघर्ष करने को कहा।