अब गो फिनाइल से धुलेंगे सरकारी दफ्तर, सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी किया आदेश

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मुखिया शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने गो-मूत्र (Cow urine) से बने फिनाइल का उपयोग सरकारी दफ्तरों को धोने में करने के आदेश दिए है। वहीं कांग्रेस (Congress) ने कहा है कि बीजेपी ये काम किसी एक निजी कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए कर रही है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मुखिया शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने गो-मूत्र (Cow urine) से बने फिनाइल का उपयोग (Use of phenyl) सरकारी दफ्तरों को धोने (Washing government offices) में करने के आदेश दिए है। जिसे लेकर सामान्य प्रशासन विभाग (Department of General Adminstration) ने आदेश भी जारी कर दिया है। सामान्य प्रशासन विभाग (Department of General Adminstration) द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि गो-मूत्र (Cow urine) से बने फिनाइल का उपयोग (Use of phenyl) ऊपर से लेकर नीचे तक के सरकारी दफ्तरों को धोने में किया जाएगा। वहीं इस संबंध में कांग्रेस (Congress) ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार एक कंपनी को फायदा पहुंचाना चाहती है।

अब गो-फिनाइल से होगी सरकारी दफ्तरों की सफाई

प्रदेश सरकार ने सरकारी दफ्तरों में सफाई (Cleaning in government offices) के लिए उपयोग होने वाले फिनाइल ब्रांड (Phenyl brand) पर रोक लगा दी है। साथ ही संबंध में आदेश पारित की है कि अब सरकारी दफ्तरों की सफाई गो-मूत्र (Cow urine) से बने फिनाइल से होगी, जो केमिकल रहित होगी। इस आदेश में पंचायत से लेकर मंत्रालय तक के सरकारी दफ्तरों में गोमूत्र से बने फिनाइल का उपयोग (Use of phenyl) करने के लिए कहा गया है। बता दें कि प्रदेश सरकार गौ संवर्धन (Cow culture) और गौ संरक्षण (Cow protection) के लिए काम कर रही है। इसी संदर्भ में यहां बड़ा फैसला लिया गया है। जिसकी सराहना की जा रही है।

ये भी पढ़े- वर्दीधारी टीआई ने छूए वीडी शर्मा के पैर, कांग्रेस ने साधा निशाना तो बीजेपी ने पलटवार करते हुए कही ये बात

कांग्रेस ने बीजेपी सरकार को लिया आड़े हाथों

हालांकि इस फैसले को लेकर अब सियासत देखी जा रही है। जिसमें कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी (Congress MLA Kunal Chaudhary) ने बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार किसी एक निजी कंपनी को फायदा पहुंचाना चाह रही है, इसीलिए उन्होंने यह आदेश पारित किया है। इस दौरान कुणाल चौधरी (Congress MLA Kunal Chaudhary) ने सीधा प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह आदेश पतंजलि को लाभ पहुंचाने के लिए लाया गया है। क्योंकि प्रदेश सरकार फिनाइल की आड़ में बड़ा घोटाला करने वाली है। आगे कांग्रेस विधायक ने मांग करते हुए कहा कि यदि शिवराज सरकार को वह फिनाइल का उपयोग करना ही है तो कमलनाथ सरकार के समय जो गौशाला बनाई गई है, उन्हें गो फिनाइल के प्रोडक्शन का काम दिया जाए, जिससे लोगों को रोजगार मिलेगा।

बीजेपी ने किया पलटवार

कांग्रेस द्वारा लगाए गए आरोप पर पलटवार करते हुए भाजपा के प्रदेश मंत्री और प्रवक्ता राहुल कोठारी ने कहा कि 15 महीने की कांग्रेस सरकार ने सरकारी दफ्तरों में भ्रष्टाचार की गंदगी फैला दी थी। जिसे साफ करने के साथ ही कांग्रेस की मानसिकता को दुरुस्त करने के लिए गो-फिनाइल का इस्तेमाल करना आवश्यक है। आगे राहुल कोठारी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने यह अभियान गो-माता की समृद्धि और स्थानीय स्तर पर रोजगार देने के लिए कर रही है। कांग्रेस ने अपने कार्यकाल में गायों के लिए कुछ नहीं किया, लेकिन गो-माता को लेकर राजनीति जरूर की है।