Dabra News : छात्रावास में नहीं मिल रहा समय से खाने को राशन, एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

Amit Sengar
Published on -

Dabra News : जहां एक ओर सरकार आदिवासी समुदाय के लिए हर क्षेत्र में सहयोग और मदद दे रही है वहीं ग्वालियर जिले के डबरा तहसील में सेवा भारती वनवासी अवासीय हाईस्कूल छात्रावास में रहने वाले छात्रों को खाने के लिए राशन न मिलने का मामला सामने आया है ऐसे में छात्रों की शिक्षा तो प्रभावित हो ही रही है लेकिन छात्रावास में रहने वाले बच्चों के स्वास्थ्य पर भी असर पड़ रहा है ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि शासन तो अपनी कई तरह की योजनाओं की घोषणा कर रहा है लेकिन जमीनी स्तर पर आते-आते उन योजनाओं में लापरवाही बरती जा रही है।

यह है पूरा मामला

छात्रावास के सचिव मनोज मोदी ने बताया कि छात्रावास में बच्चों के लिए शासन द्वारा राशन की दुकान से राशन आता था लेकिन कुछ महीनों से दुकान संचालक ने राशन देना बंद कर दिया है जिसकी वजह से उन्हें काफी परेशानियां उठानी पड़ रही है क्योंकि छात्रों को समय पर राशन न मिलने की वजह से उन्हें भोजन देने में काफी समस्याएं होती है फिलहाल वह अपनी जेब से यह सारा खर्च उठा रहे हैं जबकि शासन द्वारा उनके लिए राशन मुहैया कराया जाता है ऐसे में फूड विभाग के अधिकारी और दुकान संचालक की लापरवाही के कारण राशन आना बंद हो गया है जिसकी शिकायत तहसील से लेकर जिले स्तर तक की गई लेकिन अब तक इस मामले में प्रशासन ने कोई भी कार्रवाई नहीं की।

Dabra News : छात्रावास में नहीं मिल रहा समय से खाने को राशन, एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

ऐसे में छात्रों के लिए राशन ना आने की वजह से छात्रावास से छात्र अपने घरों को जाने को मजबूर हैं, जिससे उनकी शिक्षा और स्वास्थ्य दोनों का नुकसान हो रहा है। इसी समस्या के चलते आज डबरा एसडीएम को एक बार फिर आवेदन देकर अवगत कराया है।

डबरा से अरुण रजक की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News