MP News : पलक पावडे बिछा दतिया तैयार, 4 मई को निकलेगी पीतांबरा माई की शोभायात्रा

4 मई को दतिया में पीतांबरा माई का प्राकट्य दिवस मनाया जा रहा है।

दतिया,सत्येंद्र रावत। दतिया (Datia) मे पीतांबरा माई (maa peetambara) की शोभायात्रा 4 मई को निकलने जा रही है। इसकी तैयारियों के लिए रविवार को प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने व्यापक समीक्षा की। शोभायात्रा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, डॉ नरोत्तम मिश्रा और मंदिर के पुजारी व आम जनता शामिल रहेगी।

यह भी पढ़े…इन कर्मचारियों को बड़ी सौगात, न्यूनतम दैनिक वेतन में वृद्धि, VDA भी बढ़ा, अधिसूचना जारी

4 मई को दतिया में पीतांबरा माई का प्राकट्य दिवस मनाया जा रहा है। विश्व भर में विख्यात पीतांबरा माई की शोभायात्रा 4 मईयह भी पढ़े…यह भी पढ़े… को पूरे दतिया शहर में घूमेगी। माई की शोभा यात्रा के लिए तैयार किया गया विशेष रथ दतिया पहुंच गया है। रविवार को माई की शोभा यात्रा की तैयारियों के बारे में बताते हुए प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इस शोभायात्रा में शामिल होने के लिए कई सेलिब्रिटी आतुर थे लेकिन उन्होंने सब को मना कर दिया।

यह भी पढ़े…कर्मचारियों को मिला बड़ा तोहफा, 5% महंगाई भत्ता बढ़ा, 1 मई से लागू, जानें कितनी बढ़ेगी सैलरी

मिश्रा का कहना है कि दरअसल किसी भी सेलिब्रिटी के आने से प्रशासनिक व्यवस्थाएं करने में बड़ा ध्यान देना पड़ता है जो कि संभव नहीं था इसीलिए ऐसा किया गया। माई के रथ के आस पास केवल प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा और मंदिर के पुजारियों सेवक रहेंगे। आम जनता के लिए शोभायात्रा के चारों ओर खींची गई बेरिकेटिंग रस्सी स्पर्श करने की अनुमति रहेगी। रस्सी के अंदर जाने की किसी को अनुमति नहीं होगी।

यह भी पढ़े…MP News : सिंधिया का पीए बनकर सराफा कारोबारी को दी धमकी देने वाला निकला गैस एजेंसी संचालक, पुलिस ने पकड़ा

दरअसल कुछ दिन पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री ने हर शहर का गौरव दिवस मनाने की बात की थी और दतिया शहर की पहचान ही पीतांबरा माई के आशीर्वाद से बनी हुई है। इसीलिए यह फैसला लिया गया कि 4 मई को माई का प्राकट्य दिवस मनाया जाएगा। इस दौरान बाहर से आने वाले प्रत्येक आमजन के लिए शहर के सभी होटल निशुल्क रहेंगे। नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि इस बार शुरू हो रहे इस आयोजन को राष्ट्रीय स्तर की पहचान दी जाएगी और यह कोशिश की जा रही है कि दतिया का हर निवासी इस अवसर पर बाहर से आए हुए लोगों को अतिथि देवो भव के भाव से आतिथ्य दे।