मोबाइल टॉवर पर चढ़े पूर्व पार्षद, देर तक चला ड्रामा, देखिये वीडियो

दतिया, सत्येंद्र रावत। बड़ौनी बिल्हारी रोड पर अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई के दौरान उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक व्यक्ति मोबाइल के टॉवर (mobile tower) पर चढ़ गया। लक्ष्मण अहिरवार नाम का ये व्यक्ति पूर्व पार्षद है और इनका मकान भी अतिक्रमण के दायरे में आ रहा था। प्रशासन का अमला जब इनके मकान तोड़ने पहुंचा, तो पहले ये काफी देर तक विरोध करते रहे। आखिर में जब मकान पर जेसीबी चलने लगी तो वो एक मोबाइल टॉवर पर चढ़ गए।

ये भी देखिये – मध्यप्रदेश में उद्योगों को बढ़ाने में लगी सरकार, 50 हजार से ज्यादा युवाओं को मिलेगा रोजगार

किसी का आशियाना उजड़े तो दर्द जरूर होता है। यह बात दतिया जिले के नगर बड़ौनी में देखने को मिली, जहां बड़ौनी बिल्हारी रोड पर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई चल रही थी।पूर्व पार्षद लक्ष्मण अहिरवार का मकान भी इसी दायरे में आ रहा था। लेकिन लक्ष्मण का कहना था कि उसका मकान वर्षों पूर्व बनाया गया था और वो लोग अनुसूचित जाति के हैं इसलिए उनके साथ भेदभाव किया जा रहा है। मगर प्रशासन ने विरोध के बाद भी कार्रवाई जारी रखी और  लक्ष्मण अहिरवार के मकान पर जेसीबी चलाने लगी। इसपर पहले तो लक्ष्मण जेसीबी के के नीचे खड़ा हो गया। जब पुलिस ने उन्हें वहाँ से भगा दिया तो वह अचानक पास ही लगे निजी मोबाइल कंपनी के टावर पर चढ़ गया। इसके बाद पूर्व पार्षद  जोर जोर से चिल्लाने लगा। कई बार लक्ष्मण भारत माता की जय बोलते नजर आया।और कई बार हवा में झूलता भी दिखा। ये देख सभी की सांसे थम गई।

ये हाई प्रोफाइल ड्रामा करीब एक घन्टे तक चला। इस दौरान मौके पर खड़ीं तहसीलदार मोहिनी साहू ने लक्ष्मण को काफी समझाने का प्रयास किया, परन्तु वो किसी की मानने को तैयार नहीं था। दो बार तो लक्ष्मण टॉवर पर झूलता नजर आया परन्तु गनीमत यह रही कि वह हाथों से टॉवर का सरिया पकड़े रहा। आखिर मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी बड़ौनी रविन्द्र शर्मा के काफी समय तक समझाने के बाद लक्ष्मण टॉवर से नीचे उतरा। इस मौके पर सीएमओ रमेश सगर एवं हल्का पटवारी देवेंद्र शर्मा सहित भारी पुलिस बल मौजूद रहा।