देवास, सोमेश उपाध्याय। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व मंत्री व भाजपा नेता दीपक जोशी (BJP leader Deepak Joshi) अपने जन्मदिन पर नवाचारों के चलते चर्चा में बने रहते है। जोशी अपने जन्मदिन पर पिछले कई वर्षों से गुलदस्तों के स्थान पर स्टेशनरी सामग्री लेकर निर्धन विद्यार्थियों में वितरित करते आ रहे हैं। और इस वर्ष उन्होंने बागली विधानसभा (Bagli Assembly) की देवनालिया पँचायत की झमराल बस्ती को गोद लेकर बस्ती के विकास का जिम्मा अपने सर ले लिया है। वही बस्ती के 25 निर्धन परिवारों को कम्बल व खाद्य सामग्री भेंट की। इस दौरान गांव के सरपंच केशर सिंह चौहान ने बस्ती का नाम बदल कर “विजया कालोनी’ कर दिया।

यह भी पढ़ें…14 जून से पूरा अनलॉक होगा जबलपुर, क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में हुआ फैसला

जोशी ने कहा कि जन्मदिवस का सही अर्थ है, जीवन का एक बरस कम हो जाना। इसलिए बचे हुए शेष जीवन में और तेजी से, और समर्पण से, और कर्मठता से अपने लक्ष्य की और चलना चाहिए। उन्होंने अपने पिता स्व.कैलाश जोशी, माता स्व.तारा जोशी व पत्नी स्व.विजया जोशी का स्मरण करते हुए बताया कि यह बरस बेहद अलग, बेहद एकाकी, बेहद रिक्तता लिए हुए। परन्तु माँ-पिता के द्वारा प्रदत्त संस्कारों और जीवन संगिनी विजया के व्यवहार ने मुझे नर सेवा नारायण सेवा के भाव के प्रति लक्षित कर दिया है। इसलिए स्वर्गीय पिता के क्षेत्र में जनजाति बन्धुओ के साथ सेवा कार्य को अंजाम देने का प्रयास किया है। इसके पूर्व जोशी के पुत्र जयवर्धन जोशी ने भी अपनी माँ की स्मृति में उदयनगर के फ्रंट लाइन वर्कर्स को गिलोय, मास्क व अन्य आवश्यक सामग्री भेंट की साथ ही स्वास्थ्य केंद्र पर भाप मशीन,ऑक्सिमिटर,नेबुलाइजर आदि जरूरी संशाधन भेंट किए।