दिग्विजय ने सोशल मीडिया पर डाला ‘गद्दार रेट कार्ड’, सिंधिया समर्थकों पर साधा निशाना

मध्य प्रदेश के सियासी रण में इन दिनों उपचुनाव की जंग छिड़ी हुई है। इस चुनावी जंग में राजनेता एक दूसरे पर जमकर आरोप प्रत्यारोप के गोले बरसा रहे हैं।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सियासी रण में इन दिनों उपचुनाव (Bye election) की जंग छिड़ी हुई है। इस चुनावी जंग में राजनेता एक दूसरे पर जमकर आरोप प्रत्यारोप के गोले बरसा रहे हैं। उपचुनाव में सिंधिया (Scindia) समर्थक भाजपा (B J P) प्रत्याशी खासतौर से कांग्रेस के निशाने पर है। भाजपा ने कांग्रेस की सरकार गिराकर पार्टी में शामिल होने वाले सभी सिंधिया समर्थकों को अपना उम्मीदवार बनाया है। कांग्रेस उपचुनाव में इसे प्रमुखता से उठा रही है और जनता के बीच टिकाऊ और बिकाऊ का मुद्दा लेकर पहुंच रही है। वहीं हमेशा सोशल मीडिया के माध्यम से भाजपा पर निशाना साधने वाले पूर्व सीएम और वरिष्ठ कांग्रेस राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने भी उपचुनाव लड़ रहे भाजपा के 19 नेताओं पर निशाना साधा है।

दिग्विजय सिंह ने शनिवार सुबह अपने ट्वीटर अकाउंट पर ‘गद्दार रेट कार्ड’ जारी किया है। इसके जरिए उन्होंने उपचुनाव लड़ रहे सिंधिया समर्थक नेताओं पर निशाना साधते हुए उन पर 35-35 करोड़ रुपए में बिकने का आरोप लगया है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि जिन लोगों ने इन्हें वोट दिए, उन्हें इनसे अपना हिस्सा लेना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने प्रति वोट के हिसाब से दर भी लिखी है। उन्होंने कहा है कि जब तक उन्हें 35 करोड़ में हिस्सा ना मिले तब तक उन्हें वोट नहीं देना चाहिए। दिग्विजय ने इस लिस्ट में लिस्ट में सभी का नाम जोड़ा है लेकिन डबरा की उम्मीदवार इमरती देवी (Imrati Devi) और मुरैना उम्मीदवार रघुराज सिंह कंषाना (Raghuraj Singh Kanshana) का नाम शामिल नहीं हैं।

बता दें कि वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक कांग्रेस के 22 विधायकों द्वारा इस्तीफा देने के बाद कमलनाथ सरकार गिर गई थी। इसके बाद सिंधिया समेत सभी 22 विधायक भाजपा में शामिल हो गए थे। इन सभी सीटों पर अब उपचुनाव हो रहे हैं। कांग्रेस इन विधायकों पर लगातार 35-35 करोड़ रुपये में बिकने के आरोप लगाते हुए उन्हें गद्दार बता रही है। अब दिग्विजय सिंह ने इनमें से 19 भाजपा उम्मीदवारों को गद्दार बताते हुए फेसबुक पर उनका रेट कार्ड पोस्ट किया है और मतदाताओं से उन्हें वोट नहीं करने की अपील की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here