Guna News : अवैध शराब के ठिकानों पर पुलिस और आबकारी विभाग की दबिश, 300 लीटर अवैध कच्ची शराब जप्त

पुलिस और आबकारी विभाग की टीम ने कंजरो के डेरे पर दबिश देकर कच्ची शराब बनाने में इस्तेमाल किया जाने वाला 10 हजार लीटर लाहन नष्ट किया।

Amit Sengar
Published on -
guna news

Guna News : मध्य प्रदेश के गुना जिले की चांचौड़ा इलाके के भानपुरा गांव में अवैध शराब पर पुलिस और आबकारी विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस और आबकारी विभाग की टीम ने कंजरो के डेरे पर दबिश देकर कच्ची शराब बनाने में इस्तेमाल किया जाने वाला 10 हजार लीटर लाहन नष्ट किया। वहीं 300 लीटर अवैध कच्ची शराब भी जप्त की है। पुलिस ने शराब बनाने में इस्तेमाल किया जाने वाला सामान भी जब्त किया है।

क्या है पूरा मामला

पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि चांचौड़ा थाना क्षेत्र के ग्राम भानपुरा में कंजर डेरों पर कुछ लोगों के द्वारा अवैध शराब का निर्माण किए जाने की सूचना मिल रहीं थीं। ग्राम भानपुरा में कंजर डेरों पर अवैध शराब के कारोबार में संलिप्त शराब कारोबारियों पर कार्रवाई के लिए चांचौड़ा SDOP के नेतृत्व में पुलिस और आबकारी विभाग की संयुक्त टीमें भेजकर दबिश दी गई। पुलिस व आबकारी विभाग की संयुक्त टीमों ने ग्राम भानपरा में कंजर डेरों पर दबिश को देखकर गांव के लोग घर छोड़कर भाग निकले। इस कार्रवाई के दौरान पुलिस फोर्स द्वारा ग्राम भानपुरा में कंजरों के डेरों के आसपास तलाश करने पर सोनू पुत्र राकेश कंजर के घर के पास कच्ची शराब बनाने के लिये तैयार की हुई भट्टियां एवं इसमें उपयोगी अन्य सामग्रियां मिलीं।

जहां पर छोटे-बड़े ड्रमों एवं हौज में शराब बनाने के लिये तैयार किया गया लगभग 10 हजार लीटर लहान कीमती करीबन 10 लाख रूपये का भरा हुआ मिला। इसके साथ ही तैयार की हुई 300 लीटर अवैध कच्ची शराब कीमती करीबन 45 हजार रूपये की भी छोटे-बड़े 8 ड्रमों में भरी हुई मिली। पुलिस एवं आबकारी विभाग की टीमों द्वारा मौके पर मिलीं शराब निर्माण में उपयोगी विभिन्न सामग्रियों एवं लहान को मौके पर ही विधिवत नष्ट किया गया। इस कार्रवाई के दौरान ग्राम भानपुरा में अवैध शराब के कारोबार में संलिप्त फरार आरोपी सोनू पुत्र राकेश कंजर निवासी ग्राम भानपुरा कंजर पर चांचौड़ा थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है।

गुना से संदीप दीक्षित की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News