Gwalior News : IPL मैच में लाखों का ऑनलाइन सट्टा लगाने वाले दो सटोरिए गिरफ्तार

Amit Sengar
Published on -

Gwalior News : ग्वालियर में थाना झांसीरोड पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर सट्टा खिलवा रहे दो सटोरिए को पकड़ा है। पकड़ा गए सटोरिए IPL मैच पर ऑनलाइन सट्टा खिलवा रहा था। पुलिस को पकड़े गए सटोरिए से नगदी सहित लाखों रुपए का हिसाब-किताब मिला है। फिलहाल पुलिस ने पकड़े गए दोनों सटोरियों के खिलाफ जुआ एक्ट के तहत मामला दर्ज कर उससे पूछताछ शुरू कर दी है।

यह है मामला

पुलिस ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि कि थाना झांसीरोड क्षेत्रान्तर्गत मांडरे की माता और विक्की फैक्ट्री पर सटोरिया मोबाइल पर बेंगलुरू एवं राजस्थान रॉयल के बीच चल रहे आईपीएल क्रिकेट मैच पर ऑनलाईन सट्टा खिला रहे हैं। उक्त सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया जिस पर से अति. पुलिस अधीक्षक राजेश दंडोतिया द्वारा क्राईम ब्रांच व थाना झांसीरोड पुलिस की संयुक्त टीम को आईपीएल क्रिकेट पर हार जीत का दांव लगाकर सट्टा खिलवा रहे सटोरियों पर कार्रवाई करने हेतु निर्देशित किया गया।

थाना प्रभारी क्राईम ब्रांच निरीक्षक अमर सिंह सिकरवार एवं थाना प्रभारी झांसीरोड निरीक्षक शैलेन्द्र भार्गव के द्वारा क्राईम ब्रांच व थाना बल की संयुक्त टीम को मुखबिर के बताये स्थान मांडेर की माता के पास कार्यवाही हेतु भेजा गया। पुलिस टीम द्वारा मुखबिर के बताये स्थान पर पहुंचकर देखा तो उन्हे वहां एक संदिग्ध खड़ा दिखाई दिया जो मोबाइल चला रहा था जिसे पुलिस टीम द्वारा पकड़ लिया गया। पुलिस टीम द्वारा जब सटोरिया का मोबाइल चेक किया गया तो उसमें बेंगलुरू एवं राजस्थान रॉयल के बीच चल रहे आईपीएल मैच पर लिंक के माध्यम से अन्य लोगों को लिंक भेजकर सट्टा खिलवाना पाया गया एवं उसके पास मिले मोबाइल में आईपीएल का सट्टा खिलवाने के लिए नाम से आईडी खुली हुई पाई गई। पुलिस टीम द्वारा पकड़े गये सटोरिया की तलाशी लेने पर उसके पास से एक एप्पल कंपनी मोबाइल तथा दस हजार रूपये नगद मिलेे जिन्हे विधिवत जप्त किया गया। पुलिस द्वारा पकड़े गये सटोरिया से मिले मोबाइल को चेक करने पर उसमें लगभग साढ़े छः लाख रूपये का हिसाब-किताब भी मिला।

Gwalior News : IPL मैच में लाखों का ऑनलाइन सट्टा लगाने वाले दो सटोरिए गिरफ्तार

झांसीरोड पुलिस की संयुक्त टीम ने विक्की फैक्ट्री के पास से एक सटोरिए को पकड़कर तलाशी लेने पर उसके पास से एक वीवो कंपनी मोबाइल तथा 8700 रूपये नगद मिलेे तथा उसके पास मिले मोबाइल में आईपीएल का सट्टा खिलवाने के लिए नाम से आईडी खुली हुई पाई गई और लगभग 95 हजार का रूपये का हिसाब-किताब भी मिला। दोनों सटोरियों से पूछताछ में ज्ञात हुआ कि दतिया के रहने वाले एक खाईबाज द्वारा उन्हे ऑनलाईन सट्टा खिलाने के लिये उक्त आईडी उपलब्ध कराई गई थी। पुलिस द्वारा उक्त पकड़े गये दोनों सटोरियों व खाईबाज के खिलाफ धारा 4क पब्लिक गेम्बलिंग एक्ट व 109 भादवि का प्रकरण पंजीबद्व किया गया।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News