होली पर पुलिस ने लौटाई लोगों की मुस्कान, मायूस चेहरे खिल उठे, पढ़ें पूरी खबर

Atul Saxena
Published on -

Gwalior News : मोबाइल फोन आज एक ऐसी आवश्यकता बन गया है जिसके बिना जीवन में खालीपन सा महसूस होता है, बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो 24 घंटे मोबाइल को अपने से दूर नहीं कर पाते, ऐसे में यदि वो खो जाये तो ऐसा लगता है मानो शरीर का कोई अंग ही अलग हो गया हो। ऐसा ही हाल पिछले कुछ महीनों से एक सैकड़ा से ज्यादा लोगों का हो रहा था, लेकिन होली के त्यौहार पर पुलिस ने उनके चेहरों पर मुस्कान लौटा दी, पुलिस ने उनके मोबाइल ढूंढकर उनतक पहुंचा दिए, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने जब गुम हुए मोबाइल उनके मालिकों को दिए तो उनके चेहरों की ख़ुशी देखते ही थी।

होली पर पुलिस ने लौटाई लोगों की मुस्कान, मायूस चेहरे खिल उठे, पढ़ें पूरी खबर

Continue Reading

About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....