सेवढ़ा, राहुल ठाकुर। आज भले ही विश्व अंतर राष्ट्रीय योग दिवस  है लेकिन सनकुआ धाम के ऊपर स्थित पहाड़ों की श्रंखला पर बने वनखंडेश्वर मंदिर पर स्वामी विशम्भरानंद सरस्वती डमरू वाले महाराज के सानिध्य में हर रोज योग साधना के गुण आमजन को सिखाये जाते है।

विश्व योग दिवस पर  स्वामी विशंभरानंद सरस्वती महाराज ने वनखंडेश्वर महादेव मंदिर पर योग दर्शन की परिभाषा, महत्व समझाया और योग क्रियाओं का अभ्यास करवाया। विश्व योग दिवस पर उन्होंने आमजन को संबोधित करते हुए योग के बारे में बताया और कहा  कि सनातन धर्म में प्राचीन काल से ही योग करना बहुत महत्वपूर्ण कार्य समझा गया है जिससे लंबे समय तक तप और तपस्या करना योग साधना से ही सुनिश्चित और संभव हो पाता था।  आज के दौड़ भाग भरी जिंदगी में लोग योग करना भूल गए और लाखों बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं।  इस मौके पर मुख्य रूप से गजेंद्र पांडेय उपस्थित हुए।

यहाँ हर रोज वनखंडेश्वर मंदिर पर महाराज के सानिध्य में किया जाता है योग

ये भी पढ़ें – योग दिवस: पीएम बोले कोरोना में योग बना उम्मीद की किरण, दुनिया को मिला M-Yoga एप

घर घर मनाया गया विश्व योग दिवस 

विश्व योग दिवस पर सेवढा नगर के अधिकांश घरों में योग किया गया साथ ही इस मौके पर परिजनों को देख छोटे छोटे बच्चों ने योग साधना की। इसके अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ खण्ड सेवढ़ा द्वारा संघ स्थान पर स्वयं सेवकों द्वारा कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए शासकीय उत्कृष्ट हायर सेकंडरी स्कूल सेवढ़ा में योग किया गया।  क्रार्यक्रम में  विनोद गुप्ता, नवल त्यागी, अनिल पुजारी, उमाशंकर पाठक, गिरजेश अग्रवाल, साकेत त्यागी, बृजमोहन आदि उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें – सीएम शिवराज ने BJP कार्यालय में किया योग, पीएम मोदी को दिया धन्यवाद