होशंगाबाद, राहुल अग्रवाल। होशंगाबाद (Hoshangabad) जिले के ग्राम मालाखेड़ी (Malakheri) में एक ठगी करने का मामला सामने आया है। जहां एक युवक द्वारा प्लाट बेचने के नाम पर फरियादी से 44 लाख रूपए हड़प लिए गए। जिसकी शिकायत फरियादी द्वारा देहात थाने में दर्ज कराई है। पुलिस (police) ने आरोपी के खिलाफ 420 का प्रकरण दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें…Damoh News : देर रात गोवंश तस्करी के लिए गाय को जबरदस्ती पकड़ने का वीडियो हुआ वायरल

पूरा मामला निटाया रोड़ होशंगाबाद का है। जिसमें फरियादी 32 वर्षीय मालाखेड़ी निवासी अमित बोरिया पिता कौशल बोरिया को आरोपी अखिलेश सक्सेना पिता ज्ञान उपदेश ने प्लाट बेचने के नाम पर धोखाधड़ी और छल कपट कर 44 लाख 71 हजार का चूना लगाया है। अमित ने आरोपी को 2016 से लेकर 2020 तक किश्तों पेमेंट किया था। जिसके बाद जब रजिस्ट्री कराने को कहा गया तो आरोपी फरार हो गया। आरोपी की धोखाधड़ी की रिपोर्ट फ़रियादी ने देहात थाने में दर्ज कराई है। देहात पुलिस ने भी फ़रियादी कि शिकायत पर आरोपी के खिलाफ 420 का प्रकरण दर्ज किया है। थाना प्रभारी हेमंत श्रीवास्तव ने बताया कि आरोपी का अभी कोई सुराग नहीं लगा है पुलिस आरोपी को ढूंढने में लगी है

बता दें कि आजकल लोग ठगी करने के नए-नए तरकीब इस्तेमाल कर रहे हैं। आज हम इक्कसवीं सदी के भारत को सरकार जहां डिजिटल बनाने की राह पर कदम बढ़ा रही है। ऐसे में अपराधों का ग्राफ धीरे-धीरे बढ़ते ही जा रहा है। झूठ फरेब का बोलबाला और अपराधी प्रवत्ति के लोग शातिर अपराधी बनते जा रहे। वे पैसे कमाने के लिये किसी भी हद तक जा सकते है। ऐसा ही झूठ और छल कपट कर पैसे हड़पने का मामला देहात थाने में दर्ज हुआ है। जहां शातिर ने प्लाट बेचने के नाम पर 44 लाख 71 हजार रुपए फरियादी से हड़प लिये और फरार हो गया है। फरियादी ने इसकी शिकायत देहात थाने में दर्ज कराई है। शातिर आरोपी ने फरियादी को जूठ फरेब के जाल में उलझाकर वर्ष 2016 से वर्ष 2020 तक 4 वर्षो में 44 लाख 71 हजार का चूना लगा दिया। आरोपी के झांसे में आकर फरियादी प्लाट खरीदने की रकम किस्तो में आरोपी को देते रहा।

यह भी पढ़ें…Gwalior News: अंतरराज्यीय गिरोह का एक सदस्य पुलिस गिरफ्त में, 7 कारें बरामद