ग्वालियर, अतुल सक्सेना। कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) में दुकानदारों ने नया तरीका निकाल लिया है। वे दुकान के बाहर शटर डालकर खड़े रहते हैं, जैसे ही कोई ग्राहक आता है उसे यहाँ वहां देखकर धीरे से दुकान के अंदर कर देते हैं और चुपचाप से ग्राहक को बाहर निकाल देते हैं।  प्रशासन को जब दुकानदारों की इस कारगुजारी का पता चला तो उसने अपना एक्शन तेज कर दिया है।  एसडीएम (SDM) ने एक ऐसे ही दुकानदार को रंगे हाथ पकड़ा और उसकी दुकान को सील कर दिया।

ग्वालियर जिले में 31 मई तक कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) लागू है। जिला दंडाधिकारी के आदेश के मुताबिक इस दौरान सभी बाजार और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को बंद रखने के निर्देश हैं लेकिन कुछ दुकानदार ऐसे हैं जो चोरी छिपे अभी भी अपनी दुकान खोल रहे हैं।  ऐसे दुकानदारों ने एक नया तरिका अपनाया है।  ये दुकान का ताला खोलकर दुकान के बाहर बैठ जाते हैं और ग्राहक के आते ही धीरे से शटर खोलकर उसे दुकान के अंदर कर देते हैं और फिर शटर गिरा देते हैं , जब ग्राहक सामान ले लेता है तो यहाँ वहां देखकर ग्राहक को शटर खोलकर बाहर निकाल देते हैं।

जिला प्रशासन को शिकायत मिली कि ग्वालियर के उपनगर मुरार क्षेत्र के दुकानदार कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew)  के नियमों का उल्लंघन कर दुकाने खोल रहे हैं और चोरी छिपे व्यापार कर रहे हैं तो एसडीएम मुरार पुष्पा पुषाम और उनकी टीम एक बार फिर सक्रिय हो गई।  पिछले दो तीन दिन से एसडीएम (SDM) मुरार की टीम मुरार के बाजारों पर नजर रख रही है।  टीम ने गुरुवार को 7 दुकानों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की और आज शुक्रवार को एक दुकान को सील कर दिया।

एसडीएम की टीम ने बनाई वीडियो, दुकानदार को रंगे हाथ पकड़ा 

दरअसल मुरार एसडीएम पुष्पा पुषाम की टीम क्षेत्र के निरीक्षण पर थी तभी किसी ने खुला संतर में जूते की दुकान जोगेंद्र शू कलेक्शन के खुली होनी की बात बताई।  टीम ने सरकारी गाड़ी में बैठकर ही दुकानदार पर नजर रखना शुरू कर दी।  दुकानदार अपनी दुकान के बाहर शटर डाले खड़ा था तभी एक महिला और एक युवक वहां आये, दुकानदार ने तुरंत शटर खोला और उन दोनों को दुकान के अंदर कर दिया।  टीम ने ये पूरी घटना अपने मोबाइल में रिकॉर्ड कर ली और दुकानदार के पास पहुँच गई।

पहले तो दुकानदार इंकार करने लगा लेकिन जब टीम ने रिकॉर्डिंग दिखाई तो कुछ नहीं बोल सका।  एसडीएम की टीम ने फिर शटर खुलवाकर अंदर ग्राहकी कर रहे ग्राहकों और अंदर मौजूद दुकानदर को बाहर निकाला और फटकार लगाते हुए  कार्रवाई की और दुकान को सील कर दिया।

दुकान खोलकर कर रहे कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन 

एसडीएम पुष्पा पुषाम की टीम ने गुरुवार को मुरार में 7 दुकानों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की। प्रशासन की टीम को  न्यू भावना सेनेटरी पाइप स्टोर खुला मिला और मालिक  बृज मोहन झा पाइप और नल का सामान बेचते हुए मिले,  श्रीराम एंटरप्राइजेज भी खुला था यहाँ मनमोहन झा सामान बेच रहे थे,  न्यू पूजा सेनेटरी पर ग्राहक कल्याण सिंह  सामान वापस करने आए थे एवं गौरव पुत्र मकवाना निवासी मुरार सामान खरीदने आए थे। दोनों दुकान के अंदर पाए गए एवं दुकानदार मयंक झा का घर भी उसी दुकान के ऊपर है इसी का लाभ दुकानदार लेता पाया गया। बजाज खाना मुरार में जैन कोट एंड पैंट की दुकान खुली पाई गई।  बारादरी चौराहे पर जैन फर्नीचर शॉप खुली मिली यहाँ नरेश जैन  दुकान के अंदर ग्राहकों को सामान देते हुए मिले एवं दुकान के बाहर लोडिंग गाड़ी में ड्राइवर अलमारी ले जाता हुआ मिला। घास मंडी मुरार हॉकर्स जोन के पास गर्ग कॉस्मेटिक एवं ज्वेलरी शॉप खुली मिली आशीष गर्ग सामान बेच रहे थे। सभी के खिलाफ नियमानुसार चालानी कार्रवाई की गई।

 कोरोना कर्फ्यू में ग्राहक को दुकान का शटर खोलकर किया अंदर और फिर हुआ ये   कोरोना कर्फ्यू में ग्राहक को दुकान का शटर खोलकर किया अंदर और फिर हुआ ये   कोरोना कर्फ्यू में ग्राहक को दुकान का शटर खोलकर किया अंदर और फिर हुआ ये   कोरोना कर्फ्यू में ग्राहक को दुकान का शटर खोलकर किया अंदर और फिर हुआ ये 

टीम को देखकर अपनी ही बच्ची को बंद कर भाग गया दुकानदार

मुरार में प्रशासन कि टीम को शीतला श्रंगार की दुकान खुली दिखी और जैसे ही टीम उसपर कार्रवाई के लिए आगे बढ़ी दुकानदार उत्तम सिंह दुकान में ताला लगा कर भाग गया। खास बात ये रही कि दुकानदार जल्दबाजी में दुकान के अंदर एक महिल आग्रहक और अपनी बच्ची को भी बंद कगया।  टीम ने आवाज लगाई लेकिन बार-बार आवाज देने के बाद भी अंदर मौजूद महिल और बच्ची नहीं बोले तब टीम ने बगल की किराने की दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे को रिवाइंड कर देखा तो दुकान के अंदर एक महिला और एक बच्ची है, लेकिन बोल नहीं रही हैं। जब बाहर से टीम ने बोला कैमरे में देख लिया है अगर नहीं बोलोगे तो दुकान को सील कर देंगे इतना सुन दुकान में मौजूद नाबालिग बच्ची रोने लगी और महिला बोली कि मुझे दुकान के अंदर घबराहट हो रही है।

दोनों की बात सुनने के बाद बड़ी मुश्किल से बगल से ही घर से दुकान की संचालिका श्रीमती ममता पत्नी उत्तम सिंह को बुलवाया और दुकान को खुलवाया उसके अंदर एक 15 साल की बच्ची जिसका नाम भावना था और एक ग्राहक ममता निवासी हस्तिनापुर ब्लाउज खरीदने आई थी दोनों को बाहर निकाला और दुकान को सील किया गया। बगल से ही लगी किराने की दुकान, उसको भी सील किया गया।

एसडीएम मुरार पुष्पा पुषाम ने कहा कि वे अपनी टीम में मौजूद पटवारी राजेश राठौर, संजय गुप्ता, दीवान सिंह, राजपूत,  ज्ञान सिंह राजपूत एवं थाना मुरार का पुलिस फ़ोर्स के साथ लगातार ऐसे लोगों पर नजर रख रहीं है जो कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघ कर रहे हैं।  उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है।