इंदौर : पहले तो 3 महीने के एग्रीमेंट पर पत्नी को किया पड़ोसी के सुपुर्द, अब लगा रहा उसी पर आरोप

पत्नी ने अपने पति के पास वापस आने की बात की तो पति ने तरह-तरह के आरोप लगाकर उसे घर से बाहर कर दिया, वहीं सास ससुर भी उसे और बच्चों को अपनाने से इंकार कर रहे हैं।

इंदौर,डेस्क रिपोर्ट। एक द्वापर युग था जहां पांडव द्रौपदी को जुए (Gambling) में हार गए थे। वहीं ये कलयुग है जहां एक आदमी ने अपनी पत्नी (Wife) को एग्रीमेंट (Agreement) पर अपने पड़ोसी (Neighbor) को सौंप दिया। यह मामला कहीं और का नहीं बल्कि मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore) का है। जहां कुछ दिनों पहले इंदौर (Indore) के एमआईजी थाना क्षेत्र (MIG Police Station Area) में एक पति ने अपनी पत्नी को एग्रीमेंट (Agreement) पर अपने पड़ोसी को सौंप दिया, जिसकी शिकायत पत्नी ने एमआईजी थाने में दर्ज कराई थी। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी को गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है। पुलिस द्वारा आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

इंदौर (Indore) के एमआईजी थाना क्षेत्र के एक कारोबारी ने उसी क्षेत्र के दूसरे कारोबारी को 3 महीने के एग्रीमेंट पर अपनी पत्नी को उसे सौंप दिया था। 3 महीने का एग्रीमेंट खत्म होने के बाद जब पत्नी ने अपने पति के पास वापस आने की बात की तो पति ने तरह-तरह के आरोप लगाकर उसे घर से बाहर कर दिया। जिसके बाद कारोबारी की पत्नी मदद के लिए पुलिस के पास पहुंची, जहां उसकी शिकायत पर पुलिस ने पति को हिरासत में ले लिया है। वहीं पत्नी का कहना है कि उसका पति उसकी प्रोपर्टी हड़पना चाहता है, इसलिए उस पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। पूरे मामले को लेकर पुलिस जांच कर रही है।

ये भी पढ़े- बड़ी खबर : महिलाओं के खिलाफ गंभीर अपराध किये तो ड्राइविंग लाइसेंस होंगे सस्पेंड

पीड़िता ने बताया कि उसके सास ससुर भी उसे और बच्चों को अपनाने से इंकार कर रहे हैं। पूरे मामले को लेकर एमआईजी पुलिस ने बताया कि इंदौर के अनूप नगर के रहने वाले एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी को डरा धमका कर पड़ोसी कारोबारी के साथ 3 महीने तक रहने का एग्रीमेंट (Agreement) कराया था। एग्रीमेंट पूरा होने के बाद जब पीड़िता वापस घर लौटी तो उससे आरोपी ने बच्चों के साथ घर से निकाल दिया। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। एमआईजी थाना की एसआई ने बताया कि अब तक के इन्वेस्टिगेशन में कोई एग्रीमेंट नहीं मिला है। वहीं पूरे मामले पर दहेज प्रताड़ना (Dowry Harassment) का केस दर्ज कर लिया गया है और उसी के आधार पर जांच की जा रही है।

बता दें कि महिला की 3 साल की बेटी और 12 साल का एक बेटा है, जिसे पति और उसके घर वाले दोनों ही रखने से मना कर रहे हैं। वहीं पीड़िता को अपने साथ हुए अत्याचार को लेकर की गई शिकायत के चलते उसे और उसके बच्चों को संपत्ति से बेदखल कर दिया गया है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here