इंदौर : रेमडेसिवीर की कालाबाजारी को लेकर तीन के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई

इंदौर, आकाश धोलपुरे। शहर में लगातार रेमडेसिवीर की कालाबाजारी और जमाखोरी की खबरों के बीच प्रशासन अब इसे लेकर अलर्ट हो गया है। कलेक्टर द्वारा दिए गए आदेश के बाद अब रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कालाबाजी करने के आरोप में तीन युवकों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की गई है।

कोरोना कर्फ्यू के बावजूद मप्र में 13107 नए केस, 75 की मौत, सीएम ने कलेक्टरों को दिए ये निर्देश

कोरोना संक्रमण की रोकथाम तथा संक्रमित मरीजों के उपचार के लिए संसाधनों की उपलब्धता बनाए रखने के लिए शासन-प्रशासन द्वारा युद्ध स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। वहीं रेमडेसिवीर इंजेक्शन के वितरण को लेकर कलेक्टर मनीष सिंह के निर्देशन मे जिला प्रशासन द्वारा नियमित मॉनिटरिंग भी की जा रही है। इसी क्रम में कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी मनीष सिंह ने रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कालाबाजारी में संलग्न पाए गये तीन आरोपियों के खिलाफ रासुका के तहत सख्त कार्रवाई करने के आदेश जारी किए हैं।

राजेंद्र नगर थाना टीआई अमृता सोलंकी ने बताया कि 17 अप्रैल को मिली शिकायत पर नीलेश पिता घनश्याम चौहान को रेमडेसिवीर की कालाबाजारी करते हुए पाए जाने पर गिरफ्तार किया गया। आरोपी के खिलाफ राजेंद्र नगर थाने मे एफआईआर दर्ज की गई थी। नीलेश से पूछताथ में पता चला कि शुभम परमार एवं भूपेंद्र उर्फ़ सचिन परमार भी रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कालाबाजारी में लिप्त हैं। इसके बाद प्रशासन एवं पुलिस द्वारा संयुक्त कार्रवाई कर इन दोनों आरोपियों को भी गिरफ्तार कर राजेंद्र नगर थाना में प्रकरण दर्ज किया गया है। कलेक्टर मनीष सिंह द्वारा दिए गए आदेशों के अनुसार तीनों अपराधियों के विरुद्ध रासुका के तहत कार्रवाई की गई है।