इंदौर : हाईटेक तरीके से दिया एटीएम लूट को अंजाम, पुलिस जांच में जुटी

बदमाशों ने एटीएम लूट पर धावा बोलकर लूट को अंजाम दिया है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) में नए तरीके से एटीएम हैकिंग (Atm hacking) की वारदात सामने आई है। जहां दो बदमाशों ने एमटीएम में लगे कैश डिपॉजिट मशीन में एटीएम कार्ड लगाकर 10 हजार रुपए उड़ा ले गए। पैसे निकलते ही हैकर ने मशीन में उंगली फंसा दी। जिससे कैश निकालने वाला सेक्शन बन्द होकर रुक गया। इसके बाद बदमाशों ने एटीएम कार्ड डालकर फिर से 10 हजार निकालने का प्रयास किया। जैसे ही रुपए निकले, इसके बाद एक-एक कर इन्होंने 21 बार ऐसा किया और 2 लाख 10 हजार रुपए निकाल लिए। इस दौरान मशीन एरर बताती रही और पैसा लगातार निकालते रहे। शहर के तीन अलग-अलग ATM पर इस तरह से रुपए निकालने की बात सामने आई है।

यह भी पढ़ें… Vidisha Accident: भीषण सड़क हादसे में 4 लोगों की मौत, मृतकों में एक मासूम भी शामिल

हालांकि अभी एक ही स्थान की विस्तृत जानकारी सामने आई है। वहीं ताजा घटना इंदौर के राजेंद्र नगर थाना क्षेत्र में स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया केशर बाग ब्रांच की है। बैंक के मैनेजर ने राजेन्द्र नगर थाने में दो बदमाशों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया है। बैंक मैनेजर में शिकायत में बताया कि उनकी ब्रांच के CDM में मंगलवार सुबह 6.18 बजे से 7.21 बजे के बीच 2.10 लाख रुपए का फ्राॅड हुआ। कैश डिपॉजिट मशीन में पैसे निकाले और जमा दोनों किए जा सकते हैं।उन्होंने बताया कि उनकी शाखा के कैश रिसाइकिल में बदमाशों ने ATM कार्ड लगाकर 10 हजार रुपए निकाले। जैसे ही मशीन से पैसे निकले तो आरोपी ने उंगली डालकर कैश निकालने वाले सेक्शन को रोक दिया, जिससे मशीन एरर दिखाने लगी। तभी आरोपियों ने दूसरी बार भी ऐसे ही पैसे निकाले। इस तरह से 21 बार ATM कार्ड डालकर 10-10 हजार रुपए निकाल लिए। जबकि ATM कार्ड की लिमिट के हिसाब से 24 घंटे के भीतर 40 हजार रुपए से ज्यादा नहीं निकलना चाहिए, लेकिन बदमाशों ने 2.10 लाख रुपए निकाल लिए। राजेंद्र नगर थाना प्रभारी अमृता सोलंकी ने बताया कि शिकायत के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

बैंक के मैनेजर द्वारा की गई शिकायत पर पुलिस ने दो बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। वही एटीएम के सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशो की तलाश शुरू कर दी है।