इंदौर : घोड़ी पर चढ़ा दूल्हा, पुलिस को देख भागे बाराती, देखें वीडियो

इंदौर

इंदौर, आकाश धोलपुरे। कोरोना की तेज होती लहर के बीच लग्नसरा के मूहर्त में शादियों (Merriage) का शोर जारी है। इसी शोर के बीच प्रदेशभर (Madhya Pradesh) से कई ऐसी खबरें भी सामने आ रही है कई स्थानों पर विवाह समारोह के दौरान पुलिस (Indore Police) मेहमान बनकर पहुंच रही है और पुलिस मेहमानों को खदेड़कर परिजनों पर मुकदमा भी दर्ज कर रही है।हाल ही में इंदौर पुलिस ने एक बारात पर धावा बोल दिया और जब पुलिस ने कार्रवाई की तो भीड़ लगाकर नाचने वाले बाराती भाग खड़े हुए और दूल्हा घोड़ी पर बैठा रहा गया।

MP College: उच्च शिक्षा विभाग ने 8 मई से पहले बीएड कॉलेजों से मांगी यह जानकारी

दरअसल, अदृश्य वायरस के चलते कोरोना की चपेट मे लोग ऐसी ही जगह संक्रमण का शिकार हो रहे है, जिसके चलते पुलिस ने अब सख्ती बरतनी शुरू कर दी है।  कोविड – 19 के प्रोटोकॉल को तोड़ती ये बारात इंदौर के खुड़ैल थाना क्षेत्र में निकाली गई थी। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी जिसके बाद पुलिस ने बारात के दुल्हन (Bride) के दरवाजे पर लगने के दौरान एन वक्त पर कार्रवाई कर दूल्हा (Bridegroom) और दुल्हन के पिता पर महामारी फैलाने को लेकर केस दर्ज किया है।

पूरा मामला इंदौर के खुड़ैल थाना क्षेत्र के जामनिया खुर्द का है। जहां इंदौर मोहनलाल पिता तोताराम जाटव निवासी ग्रेटर कैलाश इंदौर के बेटे की बारात मुकेश पिता रामकिशन मिरोठिया निवासी जामनिया खुर्द खुड़ैल के घर दुल्हन ब्याहने गई थी। बारात निकलने से पहले दूल्हा घोड़ी चढ़ा और बाराती भीड़ लगाते हुए गाजे बाजो पर कोरोना नियमों का उल्लंघन कर नाचते रहे और जैसे ही बारात दुल्हन के घर के नजदीक पहुंची वैसे ही मुखबिर की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई।पुलिस को देखकर बारातियों के रंग उड़ गए और बाराती मौके से भाग खड़े हुए और बेचारा दूल्हा अकेला मौके पर रह गया।

यह भी पढ़े.. Petrol Diesel Price: चुनाव के बाद आम आदमी को झटका, इतने बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम

डीएसपी (Indore DSP) ग्रामीण अजय वाजपेयी ने बताया कि सूचना मिलने के बाद पुलिस ने एक्शन लेते हुए जामनिया खुर्द के हनुमान मंदिर के पास कार्रवाई की और मुख्य रूप से दोषी दूल्हा और दुल्हन के पिता पर प्रकरण दर्ज किया गया। पुलिस की माने तो बारात निकाली जा रही थी उसी वक्त कार्रवाई कर दोनो परिवारो मुखियाओं पर अलग अलग धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया।

फिलहाल, अजब बारात की गजब कहानी का पटाक्षेप प्रकरण दर्ज करने से नही हुआ बल्कि पुलिस ने घरवालों को फटकार लगाते आखिर में दूल्हे और एक-दो रिश्तेदार के साथ शादी के लिए दुल्हन के घर रवाना किया और पुलिस की मौजूदगी में सामान्य तरीके विवाह आयोजन संपन्न कराया गया।