श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर कैलाश विजयवर्गीय ने साधा कांग्रेस पर निशाना

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। आज डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की 120 वीं जयंती है। इस अवसर पर इंदौर में बीजेपी के दिग्गज नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उन्हें नमन किया और उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने अपने संबोधन में कहा कि यदि श्यामा प्रसाद मुखर्जी विभाजन के वक्त बुलन्दी के साथ आवाज नही उठाते और बंग बचाओ अभियान नही चलाते तो आज बंगाल, पाकिस्तान या बांग्लादेश का हिस्सा होता।

आखिर खत्म हुआ सिंधिया का इंतजार! दिल्ली से आया बुलावा!

मीडिया से बातचीत के दौरान भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि कश्मीर में आज कांग्रेस 370 हटाने के लिए जनमत की बात कर रही है, क्या कांग्रेस ने भारत में 370 लगाने के पहले जनमत किया था? उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमें ना सिखाए बल्कि खुद सीखे कि देश के लिए क्या जरूरी है। कांग्रेस कुर्सी के लिए क्या जरूरी है इसके बारे में ना सोचे।

वहीं पश्चिम बंगाल में डेमोक्रेसी को पूछे गए सवाल पर कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि वहां मुख्यमंत्री को प्रजातंत्र पर विश्वास नहीं, भारत के संविधान पर विश्वास नही, सुप्रीम कोर्ट, मानव अधिकार, महिला और बाल आयोग सभी का तिरस्कार करती है वो खुद वहां प्रधानमंत्री बनकर काम करना चाहती हैं। इधर, नेमावर हत्याकांड को लेकर विजयवर्गीय ने कहा कि घटना के दोषी पकड़े जा चुके उन्होंने जुर्म कबूल कर लिया है इसके बाद कांग्रेस वहां पर राजनीति करने पहुंच गई है जिस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा घटना दुखद है कांग्रेस दुःख बांटने गई थी या राजनीति करने गई थी। वहीं राज्यसभा सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के दौरे को लेकर उन्होंने तंज कसा और कहा कि जहाँ जहाँ दिग्विजय जाएंगे भाजपा को फायदा होगा।