Indore News: कथावाचक अनिरुद्धाचार्य को मिली बम से उड़ाने की धमकी, मांगी 1 करोड़ की फिरौती

Indore News

Indore News: वृंदावन के गौरी गोपाल वृद्धाश्रम के अध्यक्ष और कथावाचक अनिरुद्धाचार्य महाराज की इन दिनों इंदौर में कथा चल रही है। कनकेश्वरी गरबा परिसर में 1 से 7 तारीख तक आयोजित की गई इस कथा के बीच उन्हें बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। यह मामला भाजपा के कद्दावर नेता रमेश मेंदोला के क्षेत्र का है।

Indore में मिला लेटर

इस लेटर में लिखा हुआ है श्री अनिरुद्ध आचार्य जी ध्यान से पढ़ें हम लोग तुम्हें बर्बाद करने और तुम्हारे आश्रम को बम से उड़ाने के लिए वृंदावन आए थे। हमारी डिमांड 1 करोड़ रुपए की है जिसे 1 हफ्ते के अंदर पूरा करना होगा हम नहीं चाहते कि आपके माता पिता, गुरु, बेटे और आपके ऊपर मौत की मुहर लग जाए।

Indore News

अगर आपके पांडाल में 40 से 50 लोगों की मौत हो गई तो पूरे भारत में आपका नाम मिट्टी में मिल जाएगा। जब आप इंदौर में कथा सुना रहे होंगे तो आपके पास परिवार से अशुभ समाचार आएंगे तो पछताने के सिवाय कुछ नहीं बचेगा।

अगर आप पुलिस केस या फिर कोई चालाकी करने की कोशिश कर रहे हैं तो इसका हर्जाना भुगतना होगा। आपके पास ना पैसा बचेगा ना इज्जत और रुतबा ऐसी जिंदगी जीने का कोई फायदा नहीं होगा।

लेटर में यह भी लिखा गया है कि इसे पढ़ लो तो पंडाल वाले गेट पर राधे लिख देना हमारे 5 आदमियों की आपके और आपकी फैमिली के ऊपर नजर है और सभी हथियारों से लैस है। आपको मारना कोई बड़ी बात नहीं है हम सब जानते हैं कितने बजे उठते हो, दिन में कहां कहां जाते हो, कितने बजे सोते हो। रुपए इकट्ठे हो जाएं तो पांडाल वाले गेट पर जहां राधे लिखोगे वही कृष्ण लिख देना हमारे आदमी समझ जाएंगे कि पैसा इकट्ठा हो चुका है।

 

लिफाफे पर मुंबई का एड्रेस

जो चिट्ठी मिली है वह एक लिफाफे के अंदर थी और उस पर भेजने वाले का नाम पता भी लिखा हुआ है। संजय पटेल नामक शख्स के नाम के साथ लिफाफे पर मुंबई के पनवेल इलाके की श्री कृष्ण मंडी के हाउस नंबर 585 सेक्टर 10 डीएलएफ का एड्रेस लिखा हुआ है। यह सब कुछ चिट्ठी और लिफाफे पर हाथ से लिखा गया है।

लाइफ कोच और कथावाचक है अनिरुद्धाचार्य महाराज

अनिरुद्धाचार्य जी महाराज कथावाचक होने के साथ लाइफ कोच यूट्यूबर हैं और देश-विदेश में कथा का प्रवचन करते हैं। वह मूल रूप से जबलपुर के निवासी हैं लेकिन वृंदावन में अपना वृद्ध आश्रम चलाते हैं और सोशल मीडिया के माध्यम से भी लोगों तक कथा का लाभ पहुंचाते हैं।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News