लॉकडाउन के साइड इफेक्ट्स – बेरोजगारी से परेशान युवक ने क्या कर डाला! पुलिस ने किया गिरफ्तार

मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर (indore) में ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुलझाने वाली पुलिस भी हैरान रह गई। बता दें कि कोरोना के कारण कई युवाओं को अपने रोजगार से हाथ धोना पड़ा है और वो अब बेरोजगार हो चले है। ऐसे में इंदौर में आपराधिक गतिविधियों खासकर चोरी, ठगी और लूट की घटनाएं बढ़ गई है।

बेरोजगारी, इंदौर

इंदौर, आकाश धोलपुरे। देश भर में कोरोना महामारी ने बेरोजगारी (unemployment) की दर को बेहद बढ़ा दिया है।  हर कामकाज की कमर तोड़ कर रख दी है, उसी का परिणाम है कि देश और देशवासियों की आर्थिक स्थिति (economic condtion) चरमरा गई है। लिहाजा, अब कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन (lockdown) और कर्फ्यू के साइड इफेक्ट (side effects) भी सामने आ रहे है। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर (indore) में ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुलझाने वाली पुलिस भी हैरान रह गई। बता दें कि कोरोना के कारण कई युवाओं को अपने रोजगार से हाथ धोना पड़ा है और वो अब बेरोजगार हो चले है। ऐसे में इंदौर में आपराधिक गतिविधियों खासकर चोरी, ठगी और लूट की घटनाएं बढ़ गई है।

यह भी पढ़ें… कभी होती थी जमकर आलोचना, अब सरकार के लिए ‘श्रीमंत’ हुए सिंधिया

ऐसा ही एक मामला सामने आया है इंदौर के तुकोगंज थाना क्षेत्र में जहां कोरोना के कारण बेरोजगार हुए युवक ने एटीएम तोड़कर उसमे से रुपये लूटने का प्रयास किया लेकिन वो ये सब कर पाता उसके पहले ही पुलिस की नजर उस पर पड़ गई और पुलिस ने उसे गिरफ्त में ले लिया। दरअसल, एटीएम लूट के प्रयास की यह घटना शुक्रवार रात तुकोगज क्षेत्र के नाथ मन्दिर रोड पर स्थित एसबीआई एटीएम की है। जहां एटीएम के सामने से गुजर रहे तुकोगंज पुलिस के दो जवानों को एक युवक एटीएम में दिखाई दिया। जिसके पास एटीएम कटर मशीन, आक्सीजन सिलेंडर और एक्टिवा वाहन मिला। जिसकी नम्बर प्लेट पर भी कालिख पुती हुई थी ताकि लूट को अंजाम देने के बाद आरोपी की पहचान न हो सके। आरोपी युवक ने एटीएम के सीसीटीवी कैमरे पर भी कालिख पोत दी थी। वहीं वो जब एटीएम मशीन काटने की कोशिश कर रहा था तब ही जवानों द्वारा उसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया गया।

यह भी पढ़ें… Bhopal : ओपन बुक पद्धति से होंगी बरकतउल्ला विश्वविद्यालय की परीक्षाएं, आदेश जारी

तुकोगंज थाना प्रभारी कमलेश शर्मा ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी स्वास्तिक पिता शिवाजीराव निवासी बियाबानी निवासी इंदौर है। लॉकडाउन के चलते वो बेरोजगार हो गया था वहीं पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है ताकि ये पता लगाया जा सके कि वो आदतन अपराधी तो नहीं है। फिलहाल, पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर 36 वर्षीय आरोपी युवक से पूछताछ शुरू कर दी है।