जबलपुर- छह से ज्यादा मेडिकल शॉप पर प्रशासन का छापा, दस्तावेजों की जांच

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जहाँ मरीजो को रेमडेसिवीर इंजेक्शन की जरूरत है उन स्थानों को छोड़कर जिला प्रशासन के अधिकारी अस्पतालों की खाक छान रहे हैं। घंटों तक जाँच का खेल खेला जाता है और फिर बाद में कहा जाता है सब ठीक है। कुछ इस तरह का खेल जबलपुर में इन दिनों चल रहा है जहाँ जाँच के दौरान पुलिस-प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम मेडिकल स्टोर में जाकर जांच करती है और फिर कुछ देर बाद जाँच में निष्कर्ष निकलता है कि सब कुछ ठीक है।

भोपाल : हमीदिया अस्पताल से रेमडेसिवीर इंजेक्शन की चोरी का सच

मंगलवार को भी एसडीएम आशीष पांडेय ड्रग इंस्पेक्टर और ओमती थाना पुलिस के साथ शहर के करीब आधा दर्जन मेडिकल स्टोर में जाँच की कार्रवाई करते हैं और आखिर में सभी दस्तावेज सही पाने पर मीडिया के सामने इसे रूटीन चेकिंग बता कर चलते बनते हैं। प्रशासन की टीम के साथ सिविक सेंटर-गोरखपुर और शहर के अन्य स्थानों पर एसडीएम आशीष पांडेय रेमडेसिवीर इंजेक्शन के स्टॉक की जाँच करने पहुँचे। करीब एक घंटे तक जाँच करने के बाद सब कुछ ठीक होने पर एसडीएम अपनी टीम के साथ लौट जाते है। एसडीएम का कहना है कि सूचना मिली थी कि आज कुछ मेडिकल शॉप पर रेमडेसिवीर इंजेक्शन आने वाले हैं, उसी को देखने आए हुए थे।