नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन मामला : आरोपी सरबजीत सिंह मोखा को लेकर गुजरात रवाना हुई पुलिस

जबलपुर सिटी अस्पताल के संचालक सरबजीत सिंह मोखा नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन मामले में अभी तक केंद्रीय जेल जबलपुर में सजा काट रहा था। इस आरोप में मोखा की पत्नी और बेटा भी जेल में अभी बंद है।

जबलपुर, संदीप कुमार। नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन ( Fake Remdesivir Injection ) खरीद कर उसे अपने अस्पताल में भर्ती मरीजों को लगाने के आरोपी सरबजीत सिंह मोखा को लेकर गुजरात के मोरबी जिले की पुलिस रवाना हो गई है। जबलपुर सिटी अस्पताल के संचालक सरबजीत सिंह मोखा नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन मामले में अभी तक केंद्रीय जेल जबलपुर में सजा काट रहा था। इस आरोप में मोखा की पत्नी और बेटा भी जेल में अभी बंद है।

गुजरात कोर्ट के आदेश पर जबलपुर आई मोरबी जिले की पुलिस
गुजरात के मोरबी जिले की पुलिस न्यायालय का आदेश लेकर बीती रात पुलिस जबलपुर पहुँची। जहाँ केंद्रीय जेल जबलपुर में बन्द सरबजीत सिंह मोखा को लेकर आज गुजरात के लिए रवाना हो गई। बताया जा रहा है कि गुजरात पुलिस नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन मामले में लिप्त सरबजीत सिंह मोखा से पूछताछ कर कई रहस्य को जानने की कोशिश करेगी। आरोपी सरबजीत सिंग मोखा को तगड़ी सुरक्षा के बीच गुजरात ले जाया गया है। गुजरात पहुंचने के बाद आरोपी सरबजीत सिंह मोखा को मोरबी जिला अदालत के सामने पेश किया जाएगा और गुजरात पुलिस रिमांड पर लेकर मोखा से पूछताछ करेगी।

मोखा का मैनेजर देवेश चौरसिया भी है गुजरात में
नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन मामले में लिप्त सरबजीत सिंह मोखा का मैनेजर देवेश चौरसिया जो कि इस अपराध में बराबर से हिस्सेदार था। मोरबी जिले की पुलिस उसे पहले ही पूछताछ के लिए गुजरात ले जा चुकी है। और आज अब सरबजीत सिंह मोखा को भी गुजरात ले जाया गया है।