प्रदेश में शुरू होगी गोधन योजना, मुख्यमंत्री ने दी सहमति

जबलपुर, संदीप कुमार। मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल शनिवार को जबलपुर पहुंचे, यहाँ उन्होंने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा है कि कमल पटेल गोधन योजना को मध्यप्रदेश में लागू करने पर विचार चल रहा है, कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री ने चर्चा के दौरान इस योजना को लागू करने पर सहमति दी है और जल्द ही गोधन योजना को मध्यप्रदेश में भी लागू किया जा सकता है। मुख्यमंत्री गोधन योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा गाय पालने वाले पशुपालक किसानो से सरकार गाय का गोबर ख़रीदेगी। इस योजना के तहत पशुपालक से ख़रीदे गए गोबर का उपयोग सरकार वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने के लिए करेगी।

लापरवाही पड़ी भारी, एस पी ने किया टी आई को निलंबित

जबलपुर पहुंचे कृषि मंत्री कमल पटेल ने जबलपुर में मटर प्रसंस्करण इकाईयां भी लागू करवाने की भी बात की, कमल पटेल ने कहा कि जबलपुर में मटर प्रोसेसिंग यूनिट्स लगवाई जाएंगी ताकि यहां मटर का उत्पादन करने वाले किसानों को अच्छे दाम मिल सकें,इधर मध्यप्रदेश में फैले खाद संकट पर कमल पटेल ने कहा कि सभी जिलों में खाद का स्टॉक उपलब्ध है जिसे बेहतर प्रबंधन से बांटा जा रहा है,इसमें किसानों को सिर्फ उनकी जरुरत के हिसाब से ही खाद देने का आदेश दिया गया है।

मुख्यमंत्री के भाषण से मिले संकेत, पंचायत के चुनाव जल्द होंगे घोषित

जबलपुर में मीडिया से कृषि मंत्री कमल पटेल ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा,कमल पटेल ने कहा कि कांग्रेस शासन काल में वेयरहाउस ना बनाए जाने से अनाज के भण्डारण की समस्या बनी हुई है लेकिन आने वाले समय में पी.एम स्वामित्व योजना के तहत किसानों को लोन देकर वेयरहाउस की संख्या बढ़ाई जाएगी ताकि अनाज के सड़ने की समस्या खत्म हो सके,मंत्री कमल पटेल ने कहा है कि कृषि विभाग और एग्रीकल्चर कॉलेजों के सभी फॉर्म्स में सिर्फ जैविक खेती की जाएगी और किसानों को फायदे का ऐसा प्रैक्टिकल दिखाया जाएगा जिससे वो जैविक खेती को ज्यादा से ज्यादा अपना सकें।