होटल संचालक की हत्या का खुलासा, विवाद करने से किया मना तो कर दी हत्या. दो गिरफ्तार

इस अंधे कत्ल के खुलासे पर एसपी ने 10 हजार का इनाम घोषित किया था।

जबलपुर, संदीप कुमार| थाना खमरिया में हुई अंधी हत्या का पुलिस (Police) ने खुलासा कर दिया है| गालीगलौज एवं चिल्लाने से मना करने पर चाकू मारकर हत्या की गई थी| पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एक आरोपी फरार है, जिसकी पुलिस तलाश कर रही है|

17 दिसंबर की रात्रि में खमरिया थाना पुलिस (Khamaria Police) को सूचना मिलती है कि कैलाश धाम के पास एक युवक की रक्तरंजित लाश पड़ी हुई है जिसके बाद मौके पर थाना प्रभारी निरुपमा पांडे और स्टाफ सहित एफएसएल की टीम पहुंचती है मृतक की शिनाख्त मटन निवासी मन बहुत तिवारी के रूप में होती है पुलिस इस पूरे घटनाक्रम को प्रथम दृष्टया हत्या मानती है और फिर इस हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाने में जुट जाती है।

भोजनालय दुकान चलाता था मृतक 
मनबहोर द्विवेदी मुख्य रेल्वे स्टेशन प्लेटफार्म न. 6 के बाहर पण्डित भोजनालय नाम से खाने की दुकान चलाता है, जो की 17 दिसंबर की दरम्यिानी रात में अपनी स्कूटी मे सवार था, कैलाशधाम रोड ग्राम मझगवाॅ में संतोष रजक के मकान के सामने घायल अवस्था में गिर गया था, संतोष रजक के मकान मे रहने वाले किरायेदार व उसके दोस्त घायल मनबहोर द्विवेदी जिसकी जांघ से ख्ूान निकलता देख उपचार हेतु खमरिया अस्पताल ले कर गये थे, जिसे ओएफके अस्पताल से प्राथमिक उपचार बाद मेडिकल कालेज के लिये रिफर कर दिया गया।

मेडिकल कालेज में मनबहोर द्विवेदी की हो गई मौत 
खमरिया थाना पुलिस अज्ञात व्यक्ति द्वारा मनबहोर द्विवेदी की हत्या करना पाया जाने पर पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध धारा 302 भादवि अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।हत्या की हुई घटना को गम्भीरता से लेते हुये आरोपी की पतासाजी कर शीघ्र गिरफ्तारी हेतु एसपी के द्वारा आदेशित करते हुये अज्ञात आरोपी को गिरफ्तारी पर 10,000 रु का ईनाम घोषित किया जाता है।

पार्टी में हो रहा था विवाद मृतक ने लड़ाई करने से किया मना तो कर दी हत्या…
मौके पर पुलिस के द्वारा पतासाजी की गयी तो पता चला कि घटना वाले दिन कैलाशधाम रोड पर घाना निवासी सनी चैधरी जो की डाॅग ब्रीडिंग का काम करता था उसने कैलाशधाम रोड पर एक किराये का कमरा ले रखा था जिसमे डाॅग रखता है वहाँ उसने दोस्तों की एक पार्टी रखी थी जिसमें की विवाद हुआ था, यह जानकारी लगते ही सनी चौधरी उनको शांत कर रहा था तभी मृतक भी रास्ते से गुजरते हुए उनको मना करता है तभी सावन शर्मा, देवा रजक, कार्तिक गुप्ता उसके साथ मारपीट करते हुए उसपर चाकू से हमला कर देते है।सावन शर्मा, देवा रजक एवं कार्तिक गुप्ताबतीनों ने मनबहोर द्विवेदी को पकड़ और हाथ घूसों तथा प्लास्टिक के पाईप से मारपीट की तभी कार्तिक गुप्ता ने जांघ मे चाकू मार देता है।

दोस्त ले जाते है इलाज के लिए अस्प्ताल….
घटना के बाद मृतक के दोस्त उसे लेकर स्कूटी में ओ.एफ.के. अस्पताल ले जाते है और पीछे पीछे आरोपी सावन, कार्तिक एवं देवा भी अस्पताल पहुंचते है मनबर हूर की हालत गंभीर होते हुए देख डॉक्टर उसे मेडिकल कॉलेज रेफर कर देते हैं तो वहीं आरोपी मनबहोर द्विवेदी की स्कूटी लेकर वापस घटना स्थल पहुंचते हैं और बहे हुये खून को धोये तथा स्कूटी ले जाकर जंगल मे छिपा देते हैं।

आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में किया गया पेश….
सावन शर्मा जो प्राईवेट कम्पनी मे एजेंट है, तथा कार्तिक गुप्ता झालर बनाने का काम करता है को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है। फरार देवा रजक जो अपराधी प्रवृत्ति का है की सरगर्मी से तलाश जारी है।