कमल नाथ का बड़ा बयान – बिना OBC आरक्षण के ना हों पंचायत चुनाव, सुप्रीम कोर्ट जाए सरकार

कमल नाथ ने कहा कि विधानसभा के शीतकालीन सत्र में इस मुद्दे को जोर शोर से उठाया जायेगा।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमल नाथ (Kamal Nath)  ने कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद स्पष्ट कहा है बिना ओबीसी आरक्षण (OBC reservation) के पंचायत चुनाव नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे चुनाव के कोई मायने ही नहीं है जिसमें ओबीसी को आरक्षण न हो, परिसीमन ना हो , रोटेशन ना हो। उन्होंने कहा कि यदि भाजपा (BJP) सच में ओबीसी की हितैषी है तो साबित करे और सुप्रीम कोर्ट जाए।

कमल नाथ ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण हमारी सरकार ने दिया लेकिन  उसे इस आरक्षण से वंचित रखने वाली भाजपा है।  उन्होंने कहा कि भाजपा को झूठ और प्रचार की राजनीति करना आती है और वो इस समय यही कर रही है।

ये भी पढ़ें – 20 करोड़ की धोखाधड़ी कर छत्तीसगढ़ से फरार चिटफंडी ग्वालियर से गिरफ्तार

कमल नाथ ने कहा कि हमारा स्पष्ट मत है कि ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण दिया जाना चाहिए।  उन्होंने कहा कि हमारी याचिका आरक्षण को लेकर थी ही नहीं। जब सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो रही थी उस समय वहां सरकार के और आयोग के वकील भी थे क्यों स्थिति स्पष्ट नहीं की क्यों विरोध नहीं किया?

ये भी पढ़ें – अब पहली से आठवीं तक स्कूल बदलने पर टीसी की नहीं होगी जरूरत

कमल नाथ ने आरोप लगाया कि भाजपा कभी चुनाव के पक्ष में नहीं रही इसलिए डेढ़ साल से चुनाव टाल रही है। उन्होंने कहा कि विधानसभा के शीतकालीन सत्र में ये मुद्दा जोर शोर से उठाया जाएगा।

ये भी पढ़ें – जहर खाकर युवक ने किया फेसबुक लाइव, कहा लड़कियों के चक्कर में मत पड़ना, हुई मौत