Food Safety: खाद्य विभाग की छापेमार कार्रवाई, अप्राकृतिक रूप से पकाई जा रही थी 5 क्विंटल पपीता

निरीक्षण (Inspection) करने पहुंची खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की टीम ने पाया कि गोडाउन (Godown)  में लगभग 5 क्विंटल पपीता ढ़क कर रखी हुई थी। विक्रेता से पूछने पर उसने बताया कि कार्बाइड(Carbide) की पुडिया से पपीता पकाई जाती है।

food department in action

खरगोन, बाबुलाल सांरग। मिलावट से मुक्ति अभियान के अंतर्गत शहर में खाद्य प्रतिष्ठानों पर कार्रवाई की जा रही है। इसी के अंतर्गत शुक्रवार को तिलक पथ स्थित बलवंत मार्केट में युसुफ भाई, आयुब भाई की फर्म पर खाद्य सुरक्षा  अधिकारी (Food Security Officer) पहुंच गये।

ये भी पढे़- न उम्र की सीमा हो न जेंडर का हो बंधन, लेस्बियन सहेलियां घर से भागीं, लड़की के माता-पिता ने की अपहरण की शिकायत

खाद्य सुरक्षा अधिकारी एचएल अवास्या ने बताया कि यहां मौके पर उपस्थित युसुफ पिता छोटे खान ने स्वयं को फर्म का मालिक बताते हुए कहा कि कई वर्षों से फ्रूट (पपीता) का भंडारण एवं विक्रय का व्यवसाय कर रहा हूं। लेकिन, निरीक्षण करने पर पाया कि गोडाउन (Godown)  में लगभग 5 क्विंटल पपीता ढ़क कर रखी हुई थी। विक्रेता से पूछने पर बताया कि यह पुडिया कार्बाइड की है एवं कार्बाइड(Carbide) की पुडिया से पपीता पकाई जाती है।

Food Safety: खाद्य विभाग की छापेमार कार्रवाई, अप्राकृतिक रूप से पकाई जा रही थी 5 क्विंटल पपीता

ये भी पढ़े- Satna news : 4 करोड़ की लूट का सतना पुलिस ने किया खुलासा, चार आरोपी गिरफ्तार, एक फरार

कार्बाइड (Carbide) की पुष्टि के लिए विधिवत नमूना (Sample) लिया गया एवं कार्बाइड से पकी हुई 500 किग्रा पपीता, जिसका बाजार मूल्य 4 हजार रूपए था, को विधिवत नष्ट किया गया। नमूना लेकर जांच के लिए राज्य खाद्य प्रयोगशाला भोपाल भेजा गया। जांच उपरांत संबंधित विक्रेता के विरूद्ध खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 (Food Safety and Standards Act 2006) , नियम 2011 एवं विनियम 2011 के तहत वैद्यानिक कार्रवाई की जाएगी। कार्यवाई में खाद्य सुरक्षा अधिकारी एनएस सोलंकी सहित पुलिस प्रशासन का अमला उपस्थित रहा।