खरगोन, बाबुलाल सारंग। रबी विपणन मौसम (Rabi Marketing Season) 2021-22 में समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी की अवधि 22 मार्च से 5 मई तक निर्धारित की गई थी। अपरिहार्य कारणों से इंदौर (Indore) एवं उज्जैन (Ujjain) संभाग में गेहूं की खरीदी निर्धारित समयवाधि पर प्रारंभ नहीं की जा सकी।

ये भी पढे़- MP Weather Alert : प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में मौसम सूखा रहने के आसार, तापमान में होगी बढ़ोत्तरी

अब राज्य शासन स्तर पर लिए गए निर्णयानुसार इंदौर एवं उज्जैन संभाग में समर्थन मूल्य (Minimum support price) पर गेहूं की खरीदी 27 मार्च से प्रारंभ की जाएगी। इसके अलावा चना, मसूर व सरसों का उपार्जन कार्य भी 27 मार्च से प्रारंभ होगा। ज्ञात हो कि गेहूं का समर्थन मूल्य 1975 प्रति क्विंटल एवं चना का 5100 रूपए प्रति क्विंटल शासन द्वारा घोषित किया गया है।

ये भी पढे़- डस्टबिन में वोट, मिलेंगे एक करोड़ रूपये, हर साल चांद की सैर और आलीशान मकान

59 हजार 249 किसानों ने 2 फसलों में कराया पंजीयन

समर्थन मूल्य (Minimum Support Price) पर खरीदी को लेकर 59249 किसानों ने पंजीयन केंद्रों (Registration centers) पर जाकर पंजीयन कराया है। इसमें 48810 किसानों ने गेहूं उपार्जन के लिए तथा 23884 किसानों ने चना के लिए पंजीयन कराया है। कसरावद तहसील में सबसे अधिक 9656, महेश्वर में 8510, भीकनगांव में 7934, गोगावां में 6335, सनावद में 6276, बड़वाह में 6015, खरगोन में 5113, भगवानपुरा में 2916, झिरन्या में 2859, सेगांव में 2311 और खरगोन नगर के 1324 किसानों ने गेहूं व चना में पंजीयन कराया है।