आंगनवाड़ी केन्द्र में बेटे का मनाया ऐसा मनाया जन्मदिन, मां की आंखों से झलक आए आंसू

खरगोन (Khargone) के ऊन बुजूर्ग में आंगनवाड़ी केन्द्र में गुरूवार को बिल्कुल सादे मगर एक अनोखे अंदाज में एक मासूम का जन्मदिन मनाया गया।

खरगोन, बाबूलाल सारंग। एक गरीब मां की आंखे उस समय झलक उठी जब उसको पता चला कि आंगनवाड़ी (Anganwadi) में उसके लाडले का जन्मदिन बड़े धूमधाम से मनाया गया। खरगोन (Khargone) के ऊन बुजूर्ग में आंगनवाड़ी केन्द्र में गुरूवार को बिल्कुल सादे मगर एक अनोखे अंदाज में एक मासूम का जन्मदिन मनाया गया। जहां बेटे कि माँ सरू और पिता रवि के दो वर्षिय लाडले रिक्की का जन्मदिन मनाया और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं ने खूब फोटो, वीडियो बनाएं। बाद में जब फोटो, वीडियो माँ सरू का दिखाए गए तो वो अपनी ख़ुशी के आसुंओं को रोक न पाई।

यह भी पढ़ें…छतरपुर में Love Jihad का मामला! पुलिस पर लगे निष्क्रियता के आरोप

गौरतलब है कि 18 जून 2019 को जन्मे रिक्की का लॉकडाउन के कारण जन्मदिन नहीं मना पाए थे। इसलिए गुरूवार को कार्यकर्ता मंगला पाटीदार अपने घर से केक बनाकर लेकर आई। इसके बाद आंगनवाड़ी में टेबल-कुर्सियां सजाई गई और बच्चों ने अपने सहपाठी दोस्त रिक्की को जन्मदिन की बधाईयॉं दी। सुपरवाइजर ज्योति चौहान ने बताया कि जन्मदिन पर केक के अलावा लड्डू, मुँगफली के दाने, चने और सुरजने की पत्तियों से बने पकवान का नास्ता परोसा गया। वहीं केक विभाग के टीएचआर से बनाया जिसमें घी, पिसा हुआ खोपरा, इलायची और सुरजने का पावडर था।

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता करने लगी नवाचार
वैसे तो अभी स्कूल कॉलेज और सभी आंगनवाड़ीयां बंद है। लेकिन कुछ बच्चे जो अतिकम और कम वजन के है उनके आहार की चिंता आज की जा रही है। इन दिनों आंगनवाड़ीयों में बगियाँ बनाने के साथ-साथ व्यवस्थित तरीके से टेबल-कूर्सी या आसन लगाकर बच्चों को संतुलित आहार दिया जा रहा है। ऐसा कुछ पहले भी था मगर अब अनेक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता नवाचार करने लगी है। अब बच्चों को ब्रेक फास्ट के लिए बकायदा टेबल-कूर्सी पर बिठाया जाने लगा है। इसके अलावा लंच में भी कुछ ऐसी ही टेबल-कूर्सी लगाकर अलग अंदाज में भोजन कराया जाने लगा है। आंगनवाड़ी कार्यकर्ता इन दिनों बगियॉं लगाने में भी व्यस्त है और कुपोषित बच्चों को सु-पोषण देने की दिशा में भी आगे बढ़ रही है। वहीं कुद आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बच्चों को भोजन में दिए जाने वाले चीजों का नाम भी बताकर उनको खाने के लिए प्रेरित करने लगी है।

आंगनवाड़ी केन्द्र में बेटे का मनाया ऐसा मनाया जन्मदिन, मां की आंखों से झलक आए आंसूआंगनवाड़ी केन्द्र में बेटे का मनाया ऐसा मनाया जन्मदिन, मां की आंखों से झलक आए आंसू

यह भी पढ़ें… भैंसों का तबेला, गैराज, मकान बनाकर घेर रखा था पार्क, 24 करोड़ की बेशकीमती जमीन अतिक्रमण से मुक्त