मंत्रीजी की सरकारी गाड़ी, बंदरों ने की सवारी

मंदसौर, डेस्क रिपोर्ट। कभी-कभी कुछ ऐसे दिलचस्प नजारे देखने को मिल जाते हैं जो बरबस ही चेहरे पर हंसी ला देते हैं। ऐसा ही एक वाकया शनिवार शाम मंदसौर में देखने को मिला, जहां कुछ बंदरों ने ऐसा कुछ किया कि जिसने देखा बस मुस्कुरा दिया।

मंत्रीजी की सरकारी गाड़ी, बंदरों ने की सवारी
नजारा था मंदसौर के सर्किट हाउस का। यहां पर जिले में कोरोना संक्रमण को लेकर बैठक चल रही थी और बैठक में मौजूद थे प्रदेश के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री हरदीप सिंह डंग। साथ में क्षेत्र के सांसद, विधायक, कलेक्टर और एसपी भी मौजूद थे। जाहिर सी बात है कि जब इतने सारे वीवीआइपी मौजूद हो तो वहां पत्ता भी कैसे खड़क सकता है। भारी सुरक्षा के बीच मंत्रीजी का लाव लश्कर सर्किट हाउस के बाहर मौजूद था, जिसमें उनकी सरकारी सफारी गाड़ी भी थी। लेकिन यह क्या, तमाम सुरक्षा इंतजामों को धता बताते हुए वहां पर आ धमके कुछ बंदर और बेखौफ चढ़ गए मंत्री जी की गाड़ी पर। सुरक्षाकर्मियों ने बंदरों को हड़काया तो पहले तो वो चले गए लेकिन दुबारा आ गए। इतनी देर में मंत्री जी जब बाहर निकले तो उन्होंने भी यह नजारा देखा और उनके साथ सभी मौजूद लोगों ने जमकर ठहाके लगाए।

इसके बाद मंत्री जी ने सुरक्षाकर्मियों को बंदरों को भगाने से मना किया और कहा कि वे हनुमान जी के परम भक्त हैं और यह वानर उन्हीं के सेवक हैं जो उन्हें आशीर्वाद प्रदान करने आए हैं। इस दौरान बंदरों ने सरकारी गाड़ी का जमकर लुत्फ उठाया और काफी देर तक गाड़ी पर बैठे रहे। स्वभाव के विपरीत बंदरों ने गाड़ी को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया और 15 से 20 मिनट गाड़ी पर बैठने के बाद वे चुपचाप वहां से निकल गए।