Morena News : रेत माफियाओं पर कसी जाएगी नकेल, प्रशासन ने की तैयारी, चंबल राजघाट पर उतारे 50 से अधिक पुलिस बल

Morena Sand Mafia News : मुरैना जिले का सिरदर्द बने हुए रेत माफिया को कंट्रोल करने की तैयारी जिला प्रशासन ने कर ली है तैयारी में पहल करते हुए जिला कलेक्टर अंकित अस्थाना ने मीडिया को बताया की चंबल राजघाट से हो रहे अवैध उत्खनन को बंद करने के लिए टास्कफोर्स ने सशस्त्र पुलिस बल की स्थाई तैनाती राजघाट पर की गई है।

जिला कलेक्टर ने जानकारी देते हुए बताया कि काफी समय से बंद पड़ी हुई अल्लाह बेली पुलिस चौकी पर बल तैनात कर आरंभ कर दिया गया है। साथ ही रेत माफिया ने चंबल के किनारे जो रेत इकट्ठा कर रखा था उसको भी पूर्ण रूप से नष्ट करवाया जा रहा है। मुरैना टास्कफोर्स द्वारा यह कार्रवाई मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान पुलिस प्रशासन को वन विभाग की संयुक्त बैठक के बाद आरंभ की गई है।

चंबल घड़ियाल अभयारण्य के निर्धारित क्षेत्र से किसी भी तरह का उत्खनन व परिवहन प्रतिबंधित किया गया है। इसके बावजूद भी हजारों वाहन रेत का अवैध परिवहन करते हुए सड़क पर दिखाई देते हैं। चंबल नदी के प्रतिबंध क्षेत्र से अवैध खनन को रोकने के लिए 1 सैकड़ा से अधिक सशस्त्र पुलिस बल तैनात किया गया है। विगत दो दिवस में हुई कार्यवाही के दौरान लगभग 25 हजार घन मीटर अवैध रेत को नष्ट किया गया, जिसकी कीमत डेढ़ करोड़ रुपए बताई जा रही है।

चंबल नदी से अवैध रेत का उत्खनन व परिवहन रोकने के लिए मध्यप्रदेश के मुरैना के साथ-साथ मध्य प्रदेश की सीमा पर से राजस्थान ले जाने वाले रेत माफिया पर भी नजर रखी जा रही है। ऐसा नजारा कई वर्षों के बाद देखने को मिला है जहां पर अवैध रेत के उत्खनन व परिवहन पर प्रशासन ने आखिरकार रोक लगाने की ठान ही ली। इस पर जिला प्रशासन का कहना है कि अवैध खनन को रोकने के लिए या कार्रवाई अब निरंतर चलती रहेगी।
मुरैना से नितेंद्र शर्मा की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News