Morena News : वनकर्मियों व पुलिस पर रेत माफियाओं ने की अंधाधुंध फायरिंग, रेत का अवैध उत्खनन करते एक दर्जन ट्रैक्टर-ट्रॉलियां जब्त

वन विभाग ने ट्रॉली को सुरक्षा के लिए चिन्नोनी थाना परिसर में रख दिया है। वहीं पुलिस ने खनिज चोरी का मामला दर्ज कर लिया है।

morena news

Morena News : मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में चंबल नदी से होने वाले अवैध रेत उत्खनन और परिवहन को रोकने के लिए वन विभाग व पुलिस की टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए रेत माफिया के 20 से अधिक ट्रैक्टर-ट्रालियों को घेर लिया। इसके बाद मौके पर रेत माफिया ने प्रशासन की टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग करना शुरू कर दी। इसके जवाब में पुलिस की ओर से भी 10 राउंड फायर किए। रेत माफिया इतना हावी हो गया, कि कई खाली ट्रैक्टर तो कई ट्रैक्टर-ट्रालियों को लेकर भाग निकले। वहीं प्रशासन की टीम ने रेत से भरी 12 ट्रॉली जब्त किया है। पुलिस ने 12 अज्ञात रेत माफिया पर मामला दर्ज कर लिया है।

क्या है पूरा मामला

यह पूरा मामला चिन्नौनी थाना क्षेत्र के चंबल नदी तिंदोखर-खरैर घाट का है। जहाँ चिन्नौनी पुलिस को भारी मात्रा में अवैध रेत उत्खनन की शिकायतें मिल रही थीं। पुलिस और वन विभाग की टीम ने संयुक्त रूप से अलग-अलग रास्तों से घाट पर पहुंचीं। पुलिस को देखकर रेत माफिया करीब 20 ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को चंबल में कुदाकर राजस्थान के सोन की गुर्जा की ओर ले भागे। तभी 12 ट्रैक्टर-ट्रॉली नदी की बीच धार में फंस गए। चालक ट्रॉलियां अलग कर ट्रैक्टर लेकर भाग गए। फोर्स ने ट्रॉलियों को नदी से बाहर निकालने ट्रैक्टर बुलाए तभी 100 से अधिक रेत कारोबारी नदी के दूसरी तरफ जमा हो गए। कारोबारियों ने दबाव बनाने का प्रयास किया तो फोर्स ने 10 हवाई फायर किए।

प्रशासन की टीम ने मौके से रेत से भरी 12 ट्रॉली जब्त कर ली है। जिनकी कीमत लगभग 25 लाख रुपए बताई जा रही है। वन विभाग ने ट्रॉली को सुरक्षा के लिए चिन्नोनी थाना परिसर में रख दिया है। वहीं पुलिस ने खनिज चोरी का मामला दर्ज कर लिया है।

मुरैना से नितेन्द्र शर्मा की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है।वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News