मुरैना : पुलिस की वर्दी में DRUG तस्करी कर रहे दो भाई चढ़े पुलिस के हत्थे

मुरैना, डेस्क रिपोर्ट। मुरैना में पुलिस ने पुलिसकर्मियों की वर्दी में ड्रग्स की तस्करी करते दो भाईयों को पकड़ा है,  चिन्नौनी थाना पुलिस के हत्थे चढ़े दोनों भाई बड़ी दिलेरी के साथ नई स्कॉर्पियो में 1.25 क्विंटल गांजा ले जा रहे थे। दोनों भाईयों में से एक भाई पुलिस वर्दी में ड्राइवर बनकर बैठा था और दूसरा भाई अफसर बनकर पिछली सीट पर बैठा था। तस्कर ने UP पुलिस के सिपाही की वर्दी पहन रखी थी।

यह भी पढ़ें…. आपने नहीं देखा नेपाल? मायूस ना होइए, IRCTC का ये टूर प्लान है एक शानदार ऑप्शन

पुलिस के हत्थे चढ़े दोनों भाईयों ने पहले तो अपनी वर्दी का खासा रौब दिखाया, लेकिन जब पुलिस ने उनकी एक न सुनी और आईडी कार्ड दिखाने के लिए कहा, तो आईडी कार्ड देखते ही फर्जी पुलिसकर्मियों की पोल खुल गई। वही गाड़ी की  तलाशी लेने पर स्कॉर्पियो से पैकेटों में बंद गांजा मिला। आरोपी प्रदीप दलाल और सबिस दलाल हरियाणा के झज्जर के रहने वाले हैं। प्रारम्भिक जांच में पता चल है कि दोनों नकली पुलिस बनकर ड्रग्स स्मगलिंग कर रहे थे। पुलिस ने बताया कि गांजा उड़ीसा से आया था। छत्तीसगढ़ में जगदलपुर है और इसके बाद उड़ीसा का बॉर्डर लगता है। यह नक्सलाइट एरिया है। वहां गांजे की खेती खूब होती है। वहीं से यह गांजा लाया गया था। दोनों भाइयों ने जौरासी घाटी से गांजा मथुरा ले जा रहे थे। हालांकि दोनों आरोपियों को इस बात की खबर लग गई थी की पुलिस को उनकी गाड़ी में गाँजा रखे होने की सूचना मिल गई है और इसी के चलते उन्होंने अपनी गाड़ी भी दूसरे रास्ते से ले जाने कोशिश की लेकिन उसके बावजूद वह पुलिस के हत्थे चढ़ गए।