एक बार फिर चर्चा में वन विभाग की यह Lady Singham, जानिये क्या है वजह

पुलिस ने रविवार देर रात तक आवेदनों की जांच के बाद सोमवार को दोनों आवेदनों पर अलग-अलग एफआईआर दर्ज कर दी।

मुरैना, संजय दीक्षित। मुरैना (mrena0 जिले में वन विभाग की लेडी सिंघम (lady singham) के नाम से चर्चित अधिकारी श्रद्धा पांढरे रेत माफियाओं (sand mafia) के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है। इस कार्यवाही से अवैध उत्खनन करने वालों में हड़कंप मचा हुआ है। अवैध उत्खनन करने गयी एसडीओ श्रद्धा पांढरे (SDO Shraddha Pandre) की टीम पर करीब 11 से अधिक बार हमला हो चुका हैं लेकिन इसके बाद भी पांढरे के हौंसले इतने बुलन्द हैं कि पीछे हटने का नाम नहीं ले रही हैं और माफ़ियायों को मुंहतोड़ जवाब दे रही है।

दरहसल मुरैना सिटी कोतवाली थाने के पीछे बन रहे महिला थाने पर एसडीओ पांढरे (SDO Pandre) ने पुलिस के साथ छापामार कार्रवाई की थी। जिसमें चंबल नदी से अवैध उत्खनन कर करीब 15 ट्रेक्टर ट्रॉली रेत पकड़ा गया था। वन विभाग ने इस रेत को जब्त किया और कार्रवाई के लिए कोतवाली में आवेदन दिया था। लेकिन शनिवार-रविवार की रात में निर्माणाधीन महिला थाने पर जब्त किया गया रेत अचानक चोरी हो गया और उसकी जगह सिंध नदी का रेत रख दिया गया।

इसकी सूचना मिलते ही रविवार की सुबह पांढरे ने दलबल के साथ फिर निर्माणाधीन महिला थाना स्थल पर छापा-मार कार्यवाही की तो जब्त किए गए 30 घनमीटर में से 28 घनमीटर चंबल का रेत चोरी हो चुका था उसके बाद एसडीओ ने शेष 2 घनमीटर रेत को जेसीबी से भरवाकर देवरी चम्बल अभ्यारण केंद्र में रखवा दिया।इसके बाद चोरी गए रेत के मामले में भी एफआईआर के लिए एसडीओ श्रद्धा पांढरे ने सिटी कोतवाली थाना प्रभारी को आवेदन दिया था। पुलिस ने रविवार देर रात तक आवेदनों की जांच के बाद सोमवार को दोनों आवेदनों पर अलग-अलग एफआईआर दर्ज कर दी।

Read More: Cabinet Meeting: शिवराज कैबिनेट की बड़ी बैठक आज, पेंशन सहित कई प्रस्तावों पर होगा फैसला

जिले का पहला मामला है, जब सरकारी बिल्डिंग में चंबल के रेत का उपयोग करने पर ठेकेदार सहित सरकारी विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया है।शुक्रवार 9 जुलाई के आवेदन पर पुलिस हाउसिंग के एसडीओ बृजेश जाटव, सब इंजीनियर निर्भय सिंह पाल और ठेकेदार मनीष कौशिक पर आईपीसी की धारा 379 व 414 के तहत मामला दर्ज हुआ है और रेत चोरी मामले में पेटी कांट्रेक्टर बलवीर कुशवाह और अज्ञात पर आईपीसी की धारा 379, 406 व 414 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

वन विभाग की ओर से दोनों मामलों में फरियादी वनरक्षक सुरेन्द्र आर्य को बनाया गया है। वहीं सिटी कोतवाली टीआई अतुल सिंह का कहना है कि सिटी कोतवाली थाना पुलिस ने दो अलग-अलग एफआईआर दर्ज की हैं। वन विभाग की एसडीओ श्रद्धा पांढरे द्वारा दिये गए आवेदन के बाद पुलिस ने अवैध रेत का उपयोग सरकारी निर्माण में करने पर पुलिस हाउसिंग बोर्ड के एसडीओ, सब इंजीनियर और ठेकेदार पर मामला दर्ज किया है वहीं रेत चोरी के मामले में पेटी कॉन्ट्रेक्टर ठेकेदार के खिलाफ सहित अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है।जांच पूरी होने के बाद आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

एक बार फिर चर्चा में वन विभाग की यह Lady Singham, जानिये क्या है वजह

एक बार फिर चर्चा में वन विभाग की यह Lady Singham, जानिये क्या है वजह from MP Breaking News on Vimeo.