स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी के गृह जिले में नर्सेस हड़ताल पर, 12 सूत्रीय मांगों को लेकर जताया विरोध प्रदर्शन

नर्सों ने 12 सूत्रीय ज्ञापन में अनुकंपा नियुक्ति तत्काल मिलने, वेतन में विसंगतियों को दूर करने, और समान वेतन मिलने की मांग की है।

रायसेन, डेस्क रिपोर्ट। प्रदेश के साथ-साथ अब स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर प्रभुराम चौधरी के ग्रह जिले रायसेन में भी नर्सेस सैकड़ों की संख्या में 12 सूत्रीय मांगों के लेकर हड़ताल पर हैं। उनका कहना है की जब तक ये मांगे पूरी नहीं होती ये हड़ताल जारी रहेगी। पूरे मामले पर नर्सेस ने एसडीएम लक्ष्मीकांत खरे को ज्ञापन भी सौंपा है।

स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी के गृह जिले में नर्सेस हड़ताल पर, 12 सूत्रीय मांगों को लेकर जताया विरोध प्रदर्शन

ये भी पढ़ें- Indore News: सीएम की बैठक से बैरंग लौटे जीतू पटवारी, जमकर फूटा गुस्सा, देखें वीडियो

क्या हैं 12 सूत्रीय मांगें

मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी के क्षेत्र रायसेन में करीब 140 नर्सेस है अपनी 12 सूत्री मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं जिससे जिला अस्पताल की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है। लोग परेशान होते नजर आ रहे हैं। वहीं हड़ताल पर बैठी नर्सों का स्पष्ट रूप से कहना है कि हमारी मांगे मानी जाएगी उसके बाद ही हम हड़ताल खत्म करेंगे। नर्सों की मांग है कि कोरोनाकाल में जिन नर्सों ने ड्यूटी के दौरान अपनी जान गवाई उनके परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति तत्काल मिले, वेतन में विसंगतियां हैं उनको दूर किया जाए और समान वेतन समान कार्य का लाभ मिलना चाहिए। वहीं सिविल सर्जन एके शर्मा ने माना कि नर्सों की हड़ताल पर जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग की व्यवस्थाओं पर असर तो पड़ा है लेकिन हमने वैकल्पिक व्यवस्था की है और किसी मरीज को परेशान नहीं होने दिया जाएगा। वहीं नर्सेस का कहना है कि शिवराज मामा सबके मामा हैं तो हम बहनों की तरफ ध्यान क्यों नहीं दे रहे हैं।