पन्ना, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के पन्ना जिला स्थित कटवारिया गांव में दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है, यहाँ  ज एक महिला ने अपने दो मासूम बच्चों को गोद मे बैठाकर खुद को आग के हवाले कर दिया, महिला व बच्चों को आग की लपटों से घिरा देख परिजनों सहित आसपास के लोगों में चीख पुकार मच गई, तीनों के शरीर से किसी तरह आग बुझाकर अस्पताल पहुंचाया, हादसे में महिला और उसकी बेटी की मौके पर ही मौत हो गई वही बेटा अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ रहा है।

यह भी पढ़े.. गदाधारी भीम का जबलपुर से था नाता, यहाँ पर किया था यह कारनामा

पुलिस के अनुसार ग्राम कटवारिया थाना सलेहा जिला पन्ना में रहने वाली महिला द्रोपदी पति राजेश कोरी उम्र 28 वर्ष ने अपने कमरे में अपने मासूम बेटे व बेटी को गोद में बिठाया और स्वयं पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली, कुछ पल बाद ही कमरे बच्चों की चीख और उठ रहे धुएं को लेकर परिजन घबरा गए, जिन्होने कमरा खोला तो देखा कि द्रोपदी और उसके दोनों बच्चे आग की लपटों में घिरे है, तीनों को देख परिजनों में चीख पुकार मच गई, शोर सुनकर आसपास के लोग भी पहुंच गए, जिन्होने किसी तरह महिला व उसके दोनों बच्चों के शरीर पर लगी आग को बुझाया और पुलिस को सूचना देते हुए तत्काल शासकीय अस्पताल ले गए, जहां पर डाक्टरों ने जांच के बाद महिला व उसकी बेटी को मृत घोषित कर दिया, वहीं बेटे की हालत को देखते हुए भर्ती कर लिया, बेटे की हालत भी अत्यंत नाजुक बताई जा रही है।  घटना की खबर मिलते ही द्रोपदी के मायके पक्ष के लोग भी आ गए, जिन्होने प्रताडऩा का आरोप लगाते हुए हंगामा किया है, पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले में जांच शुरु कर दी है, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि प्राथमिक जांच में महिला ने पारिवारिक तनाव के चलते आत्मघाती कदम उठाया है, फिलहाल मामलें की जांच की जा रही है।