पुतला दहन को लेकर सड़क पर सियासत, भाजपा कांग्रेस आमने सामने

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal nath)  पर हुई FIR के बाद अब पुतला दहन पर राजनीति शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) का पुतला जलाने पहुंचे NSUI के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया वहीं थोड़ी बाद उसी चौराहे पर भाजपा के युवा मोर्चा (BJYM) ने कमलनाथ (Kamal nath)  का पुतला जला दिया लेकिन पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया। प्रशासन की कार्रवाई को दोहरी नीति बताते हुए युवा कांग्रेस (Youth Congress) ने शहर के एक अन्य चौराहे पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) का पुतला जला दिया।

कमलनाथ के इंडियन कोरोना वेरिएंट वाले बयान और मौत के आंकड़े से आक्रोशित भाजपा ने रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ भोपाल में क्राइम ब्रांच में FIR दर्ज करवा दी।  कमलनाथ पर FIR से भड़की कांग्रेस ने आज सोमवार को इसका विरोध किया।  ग्वालियर में युवा कांग्रेस ने जिला अध्यक्ष हेवरन सिंह कंसाना के नेतृत्व में गांधी प्रतिमा के नीचे फूलबाग मैदान पर धरना दिया।  दोपहर में NSUI के कार्यकर्ता जिला अध्यक्ष शिवराज यादव के नेतृत्व में फूलबाग चौराहे पर सरकार का पुतला जलाने की कोशिश करने लगे। कांग्रेस नेताओं के सरकार का पुतला जलाने की सूचना मिलते ही पुलिस ने उन्हें पुतला जलाने से पहले ही हिरासत में ले लिया और थाने भेज दिया ।

ये भी पढ़ें – कांग्रेस ने मुख्यमंत्री शिवराज पर मामला दर्ज करने के लिए सौंपा एसपी के नाम ज्ञापन, जानें पूरा मसला

कांग्रेस नेताओं को हिरासत में लिए जाने के थोड़ी देर बाद फूलबाग चौराहे पर ही भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ता  पहुंचे उनके साथ भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी भी थे। युवा मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष विनय जैन के नेतृत्व में पहुंचे युवामोर्चा कार्यकर्ताओं ने भाजपा नेताओं के साथ यहाँ पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का पुतला जलाया। खास बात ये रही कि जिस पुलिस और प्रशासन के अफसरों ने थोड़ी देर पहले ही कोविड गाइड लाइन का उल्लंघन बताते हुए NSUI के कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया था उसी पुलिस और प्रशासन के अफसरों ने सत्ताधारी भाजपा के पुतला दहन को कोविड गाइड लाइन का उल्लंघन नहीं माना और पुतलादहन को नजर अंदाज कर दिया।

पुतला दहन को लेकर सड़क पर सियासत, भाजपा कांग्रेस आमने सामने पुतला दहन को लेकर सड़क पर सियासत, भाजपा कांग्रेस आमने सामने

ग्वालियर पुलिस और प्रशासन की इस कार्रवाई का पता चलते ही युवा कांग्रेस सड़क पर आई।  युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव मितेंद्र दर्शन सिंह ने अपनी टीम के साथ गोले का मंदिर चौराहे पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला जला दिया। उनका कहना था कि कमलनाथ जी पर गलत तरीके से की गई FIR के बाद भी हम चुप बैठे थे लेकिन आप  कमजोर नहीं समझना। आपके प्रशासन ने NSUI के हमारे साथियों को  हिरासत में ले लिया लेकिन हम अब चुप नहीं बैठेंगे।  मितेंद्र दर्शन सिंह ने इसके थोड़ी देर बाद NSUI जिला अध्यक्ष शिवराज यादव के साथ विश्व विद्यालय चौराहे पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला जलाया।

पुतला दहन को लेकर सड़क पर सियासत, भाजपा कांग्रेस आमने सामने पुतला दहन को लेकर सड़क पर सियासत, भाजपा कांग्रेस आमने सामने