रतलाम, सुशील खरे| मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने अपने कार्यकाल के दौरान एक मुहिम शुरू की थी जिसमें अवैध निर्माण एवं भू माफियाओं को नेस्तनाबूद करना कांग्रेस  शासन का सबसे बड़ा नारा था ,और किया भी जा रहा था और उनके द्वारा उनके विधायकों मंत्रियों को भी यही सीख दी गई थी कि वह भी इसका अनुकरण करें| अभी भी यदा-कदा कमलनाथ अपनी इस योजना को ट्विटर पर साझा कर कर उसकी यादें लोगों को दिलाते रहते हैं | वही प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने भी एक बड़ा अभियान अवैध भू माफियाओं अतिक्रमणकारियों के खिलाफ छेड़ रखा है और वह लगातार जारी है और मध्यप्रदेश शासन की मंशा को पूरा करने के लिए प्रदेश के कर्मचारी भी जी जान से जुटे हुए हैं| परंतु आज एक ऐसा ऑडियो वायरल हुआ है जिसमें आलोट विधायक मनोज चावला (MLA Manoj Chawla) एक पटवारी को खुलेआम अपने कर्तव्य का पालन करने से रोक रहे हैं डरा रहे हैं धमका रहे हैं |

ऑडियो में पटवारी भी पूरी हिम्मत के साथ उनसे स्पष्ट कह रहा है कि वह शासन की मंशा के विपरीत कोई अतिक्रमण नहीं होने देगा| उसके बाद विधायक जी उसको बोलते हैं मैं तेरे को और तेरे साहब को भी देख लूंगा और जहां पर अतिक्रमण हो रहा है वहां पर भी आऊंगा | इस पूरे घटनाक्रम पर विधायक का कहना है कि जब सीएम पीएम कह रहे की सभी को जमीन मकान मिलेंगे तो कहाँ जाएँ गरीब|

ऑडियो मनोज चावला कांग्रेस विधायक आलोट
पूरा मामला आलोट विधानसभा क्षेत्र के बोरखेड़ी गांव का है जहां पर स्वप्नेश बिडवान पटवारी के रूप में पदस्थ हैं उनका एवं आलोट विधायक मनोज चावला का एक ऑडियो तेजी से वायरल हो रहा है | जिसमें आलोट विधयक मनोज चावला पटवारी से पूछते हैं कि इन दिनों आप कहां पर कार्यरत हैं पटवारी अपना कार्य क्षेत्र बोरखेड़ी एवं भोजाखेड़ी बताते हैं उसके बाद मनोज चावला पूछते हैं कि बरखेड़ा में मदन सिंह बागरी जो मकान बना रहे हैं उसको लेकर तुम्हें क्या दिक्कत है तो पटवारी बोलते हैं कि सर वह सरकारी जमीन पर बना रहे हैं इसलिए नहीं बन सकता | इस पर मनोज चावला बिफर जाते हैं और चिल्लाते हुए फोन पर कहते हैं कि पूरा देश सरकारी जमीन पर खड़ा है तुम्हें क्या दिक्कत है इस पर पटवारी उनको समझाते हैं कि सर हमें आदेश मिला है कि पुराने जो अतिक्रमण हैं उस पर भविष्य में कार्रवाई होगी परंतु अभी किसी भी नए इस प्रकार के अतिक्रमण को सख्ती से रोका जाए इसलिए मैं नहीं होने दे सकता और यदि वह करना चाहते हैं तो लिखित में कुछ भी मुझे लाकर दे जिससे मैं ऊपर बता सकूं या फिर पंचायत का कुछ लिखा दिखाएं|

मनोज चावला कहते हैं मदन सिंह बागरी को मकान बनाकर रहना है वह कहां पर रहेगा उसके घर में झगड़ा हो रहा है उसे अलग मकान बनाकर रहना है इसलिए तुम उसे मकान  बनाने तो मुझे मालूम है कहां का अवैध निर्माण हुए हैं | पटवारी प्रतिरोध करता है और बोलता है मैं अपने साहब को अवगत करा दूंगा इस पर पुनः मनोज चावला बोलते हैं ठीक है तुम तुम्हारे साहब को अवगत करा दो मैं तुम्हें और तुम्हारे साहब को भी देख लूंगा और जहां मकान बन रहा है वहां पर भी मैं आऊंगा उनसे बोल देना | बातचीत कि यह ऑडियो रिकॉर्डिंग सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है|

उल्लेखनीय कि मनोज चावला अक्सर इसी प्रकार के कार्यों के कारण सुर्खियों और विवादों में रहते हैं अब देखना है कि कांग्रेस विधायक मनोज चावला की इस दादागिरी पर क्या स्टैंड लेती है और कमलनाथ इस पर क्या बयान देते हैं| सूत्रों की माने तो पटवारी ने अपनी व्यथा अपने संगठन को बता दी है और आने वाले समय में कोई बड़ा निर्णय पटवारियों के द्वारा लिया भी जा सकता है | वहीँ विधायक मनोज चावला से जब संपर्क किया तो उनका कहना है कि आप बताओ की गरीब कहाँ जाएँ उन्होंने कहा जब सीएम पीएम कह रहे की सभी को जमीन मकान मिलेंगे तो कहाँ जाएँ गरीब सब विधायक के यहां आएंगे न|