रतलाम, सुशील खरे। मध्यप्रदेश में एक तरफ जहां भ्रष्टाचार (corruptaion) के मामले में बढ़ोतरी देखी जा रही है। वहीं दूसरी तरफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सख्त निर्देश के बाद भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्रवाई भी की जा रही है। इसी बीच एक बड़ा मामला प्रदेश के रतलाम जिले से सामने आ रहा है। जहां होम गार्ड ऑफिस (home guard office) में लोकायुक्त (lokayukt) ने छापामार कार्रवाई की है। इस दौरान रिश्वत (bribe) लेते बड़े बाबू को गिरफ्तार किया गया है।

दरअसल रतलाम के होमगार्ड ऑफिस में आज सुबह लोकायुक्त अधिकारी ने छापामार कार्रवाई की। इस दौरान लोकायुक्त ने होमगार्ड ऑफिस के बड़े बाबू को 500 रुपए रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। बता दे कि बड़े बाबू द्वारा कार्य को निपटाने के लिए 3000 रुपए की मांग की गई थी। जिसके बाद उन्हें 500 रुपए के साथ दबोचा गया है।

Read More: Khandwa : दौरे के दौरान पलटा MP के मंत्री के काफ़िले का वाहन, मचा हड़कंप

रतलाम के कमांडेंट होमगार्ड कार्यालय पर आज लोकायुक्त पुलिस उज्जैन के द्वारा छापा मारते हुए वहां के सहायक उपनिरीक्षक जितेंद्र कुमार पांडे को 3000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। जितेंद्र कुमार पांडे की शिकायत रतलाम निवासी राकेश जाट के द्वारा की गई थी।  राकेश जाट के द्वारा बताया गया था कि उनके पिता नाला लाल जाट लांस नायक के देहांत के पश्चात मिलने वाली संचित निधि एवं करुणानिधि के 51 हजार की राशि का उन्हें भुगतान होना था।

जिस के संदर्भ में वह सहायक उपनिरीक्षक जितेंद्र कुमार पांडे से मिले थे। इसके पश्चात जितेंद्र कुमार पांडे ने उनसे राखी दिलवाने के लिए 3000 की रिश्वत मांगी थी।  इस राशि में से 2500 ले चुका था।  शेष 500 की रिश्वत आज लेते हुए लोकायुक्त पुलिस के द्वारा उसे रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया। पूरी कार्रवाई उज्जैन लोकायुक्त डीएसपी वेदांत शर्मा के नेतृत्व में की गई।

https://vimeo.com/564067271