Ratlam : बेलगाम अधिकारी, वैक्सीनेशन के लिए आए युवक को SDM ने धक्के मारकर बाहर निकाला

इस मामले में एसडीएम का कहना है कि युवक सरकारी कर्मचारी नहीं था तथा अपना परिचय नहीं दे पाया और ना ही उसने अपना परिचय पत्र दिखाया। इसलिए उसे वैक्सीनेशन सेंटर से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

रतलाम, सुशील खरे। रतलाम (Ratlam) में गुरुवार को वैक्सीनेशन महा अभियान के तहत पूर्ण रूप से अव्यवस्थाओं का बोलबाला रहा। जहां एक और रतलाम एसडीएम अभिषेक गहलोत एक युवक को बुरी तरह धक्का देते हुए वैक्सीनेशन सेंटर से बाहर निकालते हुए दिखे, तो वहीं दूसरी तरफ बहुत से वैक्सीनेशन सेंटर पर लोग हंगामा करते नज़र आये। सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन होता रहा, आरोप-प्रत्यारोप लगते रहे, पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी लोगों को समझाते रहे और ऐसे में गुरुवार का रतलाम का वैक्सीनेशन महा अभियान पूर्ण हुआ ।

यह भी पढ़ें… Shivpuri – थाना प्रभारियों के तबादले, SP ने जारी किए आदेश, देखिये लिस्ट

गौरतलब है कि रतलाम में आज वैक्सीनेशन (vaccination) के लिए लोगों में काफी उत्साह दिखा। लेकिन समय के पूर्व ही वैक्सीन (Vaccine) खत्म होने पर काफी लोगों को निराश होकर घर जाना पड़ा। पिछले महा अभियान से सबक लेते लेते हुए जिला प्रशासन ने आज रतलाम रतलाम शहर के लगभग सभी वार्डों में वैक्सीनेशन की व्यवस्था करी थी, कुछ इसी प्रकार की व्यवस्था जिले में भी निर्धारित की गई थी इसकी मानिटरिंग स्वयं  एसडीएम अभिषेक गहलोत कर रहे थे ।

वैक्सीन खत्म, जनता निराश
रतलाम जिले में 37 हजार वैक्सीन लगाने का लक्ष्य महा अभियान में रखा गया था। इस दौरान पूरे जिले में सभी सेंटरों पर अनियंत्रित रूप से वैक्सीनेशन के लिए भीड़ टूट पड़ी। और खुलकर एक बार फिर लोगों ने अत्याधिक उत्साह में अपने जीवन को खतरे में डालते हुए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क  के नियमों का खुला उल्लंघन किया। इस दौरान व्यवस्था करने वाले भी उनके सामने असहाय नजर आए। कई वैक्सीनेशन सेंटर पर लोग आपस में एक दूसरे से उलझते दिखे, तो कहीं पर धक्का-मुक्की जैसे हालात नजर आए। जिले के ग्रामीण एवं आसपास के क्षेत्रों से वैक्सीन लगाने वाले लोगों और स्थानीय लोगों में झड़प भी देखने को मिली। स्थानीय लोगों का कहना था कि वैक्सीन सिर्फ शहर के लोग लगवाएंगे। बाहरी लोगों को वैक्सीन नहीं लगाई जाए।

इसी दौरान रतलाम के नए कलेक्ट्रेट भवन में जहां पर सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को वैक्सीन लगाई जा रही थी। लेकिन वहां पर एक व्यक्ति वैक्सीन सेंटर के अंदर चला गया। जिससे लोगों ने आक्रोश प्रकट किया तथा वहां पर उपस्थित एसडीएम के द्वारा उसे समझाइश दी गई इसके पश्चात वह नहीं माना। जिसके बाद गुस्साए एसडीएम ने युवक को धक्के मार कर सेंटर से बहार निकाल दिया। जिसका किसी ने वीडियो भी बना लिया। आप भी देखिये किस तरह एसडीएम युवक को धक्के मार सेंटर से बहार निकाल रहे है।

एसडीएम ने दी सफाई
वहीं इस संदर्भ में एसडीएम अभिषेक गहलोत ने बताया कि लोगों में अत्याधिक उत्साह के कारण सभी सेंटरों पर बहुत ज्यादा भीड़ उमड़ रही है। नए कलेक्ट्रेट परिसर में सरकारी कर्मचारियों और उनके परिवार के लिए ही व्यवस्था थी। परंतु अन्य लोग भी यहां पर पहुंच गए थे। युवक सरकारी कर्मचारी नहीं था तथा अपना परिचय नहीं दे पाया और ना ही उसने अपना परिचय पत्र दिखाया। इसलिए उसे वैक्सीनेशन सेंटर से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। उल्लेखनीय है कि वैक्सीन के लिए अब किसी भी प्रकार से प्री बुकिंग नहीं करानी पड़ रही है। और कोई भी व्यक्ति जहां पर भी उसे उचित लग रहा है वहां जाकर वैक्सीन लगवा रहा है। ऐसे में एसडीएम के द्वारा युवक को धक्के देकर बाहर निकालना चर्चा का विषय बना हुआ है। यदि एसडीएम चाहते तो उस युवक को वैक्सीनेशन के लिए दूसरी जगह भेज सकते थे।