लिव इन में रहने वाले युवक का थाने में रिश्ता, मंदिर मे फेरे, जाने क्या है पूरा माजरा

अक्सर पुलिस की कार्यशैली को लेकर लोग सवाल उठाते है और पुलिस के प्रति उनकी सोच नकारात्मक होती है। लेकिन यही पुलिस कई बार कुछ ऐसा कर जाती है, जो लोगों के लिए मिसाल साबित होती है।

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। अक्सर पुलिस की कार्यशैली को लेकर लोग सवाल उठाते है और पुलिस के प्रति उनकी सोच नकारात्मक होती है। लेकिन यही पुलिस कई बार कुछ ऐसा कर जाती है, जो लोगों के लिए मिसाल साबित होती है। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है जबलपुर पुलिस ने। जब एक युवती पुलिस के पास अपने लिवइन पार्टनर के धोखा देने और शादी के वादे से मुकरने की शिकायत लेकर पहुंची। इसके बाद मामला दर्ज करने की बजाय पुलिस ने समझौता करने का मन बनाया और मामले का अंत सुखद रहा। युवक शादी के लिए तैयार हो गया और पुलिस की मौजूदगी में उनके सात फेरे संपन्न हुए।

मामला जबलपुर के माढ़ोताल थाना क्षेत्र का है। यहां एक युवती ज्योति ने थाने पहुंचकर थाना प्रभारी रीना पांडे को बताया कि वह और उसका प्रेमी ऋषभ पिछले पांच सालों से लिव इन में रह रहे थे। ऋषभ ने ज्योति से शादी का वादा किया था लेकिन अब जब उसने शादी के लिए कहा तो वह परिवार वालों का हवाला देकर शादी की बात को टालने लगा। प्रेमी की ना सुनकर दुखी ज्योति थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंची। पूरा मामला सुनने के बाद थाना प्रभारी रीना पांडे ने समझदारी दिखाते हुए मामला दर्ज करने की बजाय पहले युवक को बुलाकर उसे युवती से शादी करने के लिए कहा। शुरूआत में युवक ने पुलिस की बात को भी मानने से इनकार कर दिया, लेकिन खूब समझाइश के बाद आखिरकार वह शादी के लिए तैयार हो गया। इसके बाद पुलिस ने शादी की तैयारी शुरू कर दी। दोनों की मंदिर में शादी करा दी गई। इस दौरान पुलिसकर्मी बाराती बनकर शादी में शामिल हुए और सुखी जीवन का आशीर्वाद देकर दोनों को विदा कर दिया।

माढ़ोताल थाना प्रभारी रीना पांडे ने बताया युवक के शादी से इनकार करने की वजह से युवती दुखी थी। पुलिस भी चाहती तो युवती की शिकायत के आधार पर धारा 376 समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लेती। लेकिन लडक़ी केवल शिकायत करने आई थी, वह उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं करना चाहती थी। ऐसे में लडक़ी की भावनाओं को देखते हुए युवक को थाने बुलाकर समझाया गया और वह शादी के लिए तैयार हो गया। पुलिस के इस काम की चर्चा इन दिनों खूब हो रही है और लोग इसकी प्रशंसा भी कर रहे हैं। वहीं एक सकारात्मक प्रयास से दो प्रेमी बिछडऩे से बच गए।