Sagar News : साइबर ठगों ने डॉक्टर को बनाया शिकार, लिंक पर क्लिक करते ही खाते से निकल गए 50 हजार

धोखाधड़ी होने पर फरियादी डॉ. प्रमोद सिंघई ने थाने पहुंचकर शिकायती आवेदन दिया। आवेदन पर कार्रवाई करते हुए कैंट पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Amit Sengar
Published on -
Gwalior News

Sagar News : लोगों को ठगने के लिए साइबर अपराधी लगातार नए-नए तरीके अपना रहे हैं, ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश के सागर जिले से आ रहा है। जहाँ डॉक्टर के मोबाइल पर बैंक खाता बंद होने का मैसेज भेजकर धोखाधड़ी की गई है। ठग ने मैसेज पर एक लिंक भेजी और लिंक पर क्लिक करते ही खाते से 50 हजार रुपए निकाल लिए गए। धोखाधड़ी होने पर डॉक्टर ने थाने में शिकायत की। शिकायत पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया है।

क्या है पूरा मामला

पुलिस द्वारा मिली जानकारी के अनुसार, फरियादी डॉ. प्रमोद पिता नेमीचंद सिंघई उम्र 69 साल निवासी शास्त्री चौक सदर बाजार ने शिकायत में बताया कि 15 फरवरी को दोपहर मैं अपने घर पर था। तभी मेरे एसबीआई बचत खाता से लिंक मोबाइल नंबर पर एक मैसेज आया। जिसमें लिखा था कि आपका खाता बंद होने वाला है। आप नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें। मेरा खाता बंद न हो इसलिए सही मानते हुए मैंने लिंक पर क्लिक किया गया। क्लिक करने के तुरंत बाद मेरे मोबाइल पर बैंक खाते से 50 हजार रुपए निकाल जाने का मैसेज आया।

जबकि मैं खाते से इंटरनेट बैंकिंग का प्रयोग नहीं करता हूं। धोखाधड़ी होने पर फरियादी डॉ. प्रमोद सिंघई ने थाने पहुंचकर शिकायती आवेदन दिया। आवेदन पर कार्रवाई करते हुए कैंट पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News