Sagar News: सफ़ेद कागजों में सिमटा ‘विकास’, किसी ने नहीं ली सुध, ग्रामीण परेशान

सागर, डेस्क रिपोर्ट। सागर (sagar) के देवरी विधानसभा (Deori Assembly) की ग्राम पंचायत में विकास (development) देखने वाली एक तस्वीर सामने आई है। जहां लोगों को शव को श्मशान घाट ले जाने के लिए अनेक प्रकार की कठिनाइयां उठानी पड़ रही है। ऐसे ही एक तस्वीर देवरी विधानसभा की ग्राम पंचायत जैतपुर कछिया से देखने को आई। जहां एक नाले का पानी पुल के ऊपर से होने के कारण शव को ट्राली में रखकर 3 घंटे तक इंतजार करना पड़ा।

चौका देने वाली बात यह है कि श्मशान घाट जाने के लिए रास्ते का नजारा ऐसा है की, वहां तक आसानी से नहीं पहुंच सकते। अगर पहुंच भी जाते हैं तो बरसात में शव को जलाने में बहुत समस्या होती है जैसे कि शमशान में टीन छत ना होने के कारण बरसात में इंतजार करना पड़ रहा है।

Read More: Transfer: मध्यप्रदेश में बड़े स्तर पर हुए अधिकारियों के तबादले, यहां देखें लिस्ट

ग्राम से शमशान तक जाने वाली रास्ते में ना तो रोड है और बीचों-बीच एक नदी का पुल गुजरा है। जो कि थोड़ी सी बरसात होने पर पानी पुल के ऊपर हो जाता है। जिससे पशु गायें भैसें गिरकर उनकी मौत तक हो जाती है। ऐसी समस्याओं को लेकर समस्त ग्रामवासी हर रोज परेशानी उठा रहे हैं।

आज फिर ऐसा नजारा देखने को मिला। जहां लोगों को शव को 3 घंटे रस्ते में रखकर इंतजार करना पड़ रहा हे। वहीं ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्रीय विधायक सिर्फ वोट मांगने आते हैं और फिर उसके बाद कभी सुध तक लेने नहीं आते और न विधायक जी के द्वारा विधायक निधि से ग्राम के विकास कार्यों के लिए कोई भी राशि नहीं दी गई ।