MP Politics: कांग्रेस विधायक की सोनिया गांधी और सुमित्रा महाजन के लिए बड़ी मांग, हलचल तेज

सुमित्रा ताई ने इंदौर सहित पूरे मध्यप्रदेश के लिए जनसेवा के कार्य किए हैं।

श्योपुर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश राजनीति (MP Politics) में कभी भी कुछ भी संभव है। अनिश्चितता के इस खेल में अब प्रदेश के कांग्रेस विधायक (Congress MLAs) ने केंद्र सरकार (central government) से बड़ी मांग कर दी है। वही कांग्रेस विधायक की यह मांग चर्चा का विषय बन गई है। दरअसल मध्यप्रदेश से कांग्रेस विधायक बाबू जंडेल (babu jandel) ने सोनिया गांधी (sonia gandhi) और सुमित्रा महाजन (sumitra mahajan) के लिए भारत रत्न की मांग की है। कांग्रेस विधायक सोनिया गांधी को भारत रत्न दिए जाने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति को पत्र भी लिखेंगे।

श्योपुर से कांग्रेस विधायक बाबू जंडेल का कहना है कि सोनिया गांधी के अलावा आठ बार लगातार लोकसभा सांसद चुनी गई सुमित्रा महाजन को भी भारत रत्न दिया जाना चाहिए। इसके साथ ही कांग्रेस विधायक जंडेल ने कहा कि सोनिया गांधी के परिवार ने देश की सेवा करते हुए अपने प्राण का बलिदान दिया था। इसके साथ ही गांधी परिवार के लोगों ने देश के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इसके अलावा गांधी परिवार की बहू रही सोनिया गांधी ने देश के विकास के लिए कई बार बड़ा त्याग किया है। इस बात को ध्यान में रखते हुए भाजपा सरकार को बड़ा दिल रख कर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी भारत रत्न दिया जाना चाहिए।

कांग्रेस विधायक बाबू जंडेल यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि जिस प्रकार पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई (atal bihari vajpayee) को केंद्र सरकार द्वारा भारत रत्न (bharat ratna) से सम्मानित किया गया है उसी तरह सोनिया गांधी भी भारत रत्न की हकदार है। उन्होंने खुद पद का त्याग करके डॉ मनमोहन सिंह (manmohan singh) को प्रधानमंत्री बनाया था। इसलिए मोदी सरकार द्वारा उनके नाम को भारत रत्न के लिए प्रस्तावित करना चाहिए।

Read More: वरिष्ठ बीजेपी नेता का केंद्रीय मंत्री को पत्र- “सत्ता का मद आपके सिर पर चढ गया है”

इसके साथ ही पूर्व लोकसभा अध्यक्ष और इंदौर से 8 बार लगातार सांसद चुनी गई सुमित्रा महाजन (sumitra mahajan) को भी भारत रत्न देने की मांग करते हुए बाबू जंडेल ने कहा कि सुमित्रा ताई ने इंदौर सहित पूरे मध्यप्रदेश के लिए जनसेवा के कार्य किए हैं। उनके इस महत्वपूर्ण कार्य को ध्यान में रखते हुए उन्हें पद्मभूषण नहीं बल्कि भारत रत्न से सम्मानित करना चाहिए।

बता दें कि पिछले दिनों अपने-अपने क्षेत्रों में किए गए कार्यों के लिए सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार दिए जाने का ऐलान किया गया था। जिसमें 8 बार इंदौर से लोकसभा सांसद चुने गए सुमित्रा महाजन को पद्मभूषण से अलंकृत करने की घोषणा की गई थी। अब ऐसे में कांग्रेस विधायक के इस मांग के बाद सियासी गलियों में कितनी हलचल होती है। इसके साथ ही बीजेपी (bjp) का इस पर क्या रुख रहता है। यह देखना दिलचस्प होगा।