शादी के 2 दिन पहले वर पक्ष ने रखी 50 लाख रुपए दहेज की डिमांड, बारात लाने से किया इनकार, जाने मामला

रीति रिवाज भी शुरू हो गए लेकिन ऐन मौके पर वर पक्ष की तरफ से आये फ़ोन ने सबको चौंका दिया।

शिवपुरी, डेस्क रिपोर्ट। देशभर में भले ही दहेज (dowry) को एक अपराध की श्रेणी में रखा गया हो लेकिन आए दिन कई ऐसी खबरें सामने आती है। जिसमें दहेज डिमांड (dowry demand) की जिल्लत लड़की वालों को झेलनी पड़ती है। ऐसा ही एक मामला अब मध्य प्रदेश के शिवपुरी (Shivpuri) जिले से सामने आया है। शादी की पूरी तैयारी के बाद अचानक से वर पक्ष की तरफ से हुई दहेज डिमांड की वजह से शादी टूटने की कगार पर आ गई है। दरअसल 22 अप्रैल को शादी होनी है। इससे पहले वर पक्ष की तरफ से दहेज के रूप में 50 लाख रुपए की डिमांड कर दी गई है। वही दहेज ना देने की स्थिति में वर पक्ष ने बारात वधू पक्ष के घर लाने से मना कर दिया है।

इस मामले में लड़की के पिता किशन सिंह रघुवंशी का कहना है कि राजधानी भोपाल के ही समर्थ सिंह रघुवंशी के बेटे अंशुल के साथ उनकी बेटी सुरभि की शादी तय हुई थी। शादी 22 अप्रैल को होनी है। इससे पहले ही लड़के वाले की तरफ से 50 लाख रुपए दहेज की डिमांड की गई है।

जानकारी के मुताबिक शिवपुरी में लड़के वालों ने ऐन शादी के दो दिन पहले बारात लाने से इंकार कर दिया, 22 अप्रैल को शादी हुई थी लेकिन लड़के वालो ने 50 लाख की डिमांड कर दी, लड़की वालो ने जब 50 लाख देने में असमर्थता जताई तो लड़के वालों ने बारात लाने से इंकार कर दिया।

Read MOre : सीएम शिवराज के अधिकारियों को निर्देश, योजनाओं पर प्रमुखता से हो कार्य, पर्यावरण की सुरक्षा को मिले सर्वोच्च प्राथमिकता

बताया जा रहा है कि भोपाल निवासी अंशुल रघुवंशी का शिवपुरी की सुरभि रघुवंशी से तय हुआ। दोनो गुड़गांव में साथ नौकरी करते है। परिजनों ने दोनो का रिश्ता तय किया। 22 अप्रैल की शादी तय हुई। सुरभि के घरवालो ने सभी इंतज़ाम पूरे किए। बारात घर, होटल बुक हुआ। रिश्तेदार सुरभि के घर पहुंच गए। रीति रिवाज भी शुरू हो गए लेकिन ऐन मौके पर अंशुल के घर से आये फ़ोन ने सबको चौंका दिया।

अंशुल के भाई और पिता ने सुरभि के माता पिता से 50 लाख की डिमांड कर दी। जैसे ही सुरभि के पिता ने 50 लाख देने में असमर्थता जताई। लड़के वालों ने बारात लाने से इंकार कर दिया। रभि के घर में यह पता चला तो हड़कंप मच गया। लड़के वालों को समझाने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने किसी से भी बात करने से इंकार कर दिया है।