कोरोना काल में मरीजों के मसीहा बने प्रवीण सिंह चौहान, गमी के बावजूद भोजन वितरण का कार्य जारी

खास बात ये है कि भोजन के पैकेट पर उनके मोबाइल नम्बर के साथ साथ ये भी लिखा हुआ है कि जिस किसी को भोजन की आवश्यकता हो उनसे संपर्क कर सकते है।

कोरोना सिंगरौली

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। कोरोना (corona) के इस भयावह दौर में  सिंगरौली (singrauli) में पिछले 12 दिन से आधा दर्जन अस्पताल सहित सब स्टैंड (bus stand) में प्रवीण सिंह चौहान भोजन-पानी बंटवा रहे है। आपको बता दें कि सिंगरौली जिले में लॉक डाउन, कोरोना कर्फ्यू (corona curfew) लगने के कारण सभी प्रतिष्ठान, होटल, रेस्टोरेंट (restaurant) बंद है यहां तक कि सरकार द्वारा चलाया जा रहे दीनदयाल योजना में भी ताला लटक रहा है। जिला ट्रॉमा अस्पताल सहित प्राइवेट अस्पतालों में भी दूर दराज से मरीज इलाज के लिए आते है लेकिन लॉक डाउन के कारण उन्हें भोजन पानी नहीं मिल पाता ऐसे में एक समाज सेवी जो कि यूथ कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष है, लगातार 12 दिन से आधा दर्जन अस्पताल सहित बस स्टैंड में भोजन-पानी बटवा रहे है। खास बात ये है कि भोजन के पैकेट पर उनके मोबाइल नम्बर के साथ साथ ये भी लिखा हुआ है कि जिस किसी को भोजन की आवश्यकता हो उनसे संपर्क कर सकते है।

यह भी पढ़ें… कोरोना की तीसरी लहर को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने जताई चिंता, केंद्र से मांगा प्लान

दुखो का पहाड़ टूटने के बाद भी समाज सेवा से पीछे नही हटे प्रवीण

प्रवीण सिंह चौहान 12 दिन से भोजन पानी खुद जाकर लोगों को बाटते थे। लेकिन हाल ही में 3 दिन पूर्व उनके घर के गार्जियन, उनके दादा जी का निधन हो गया। जिसके बाद पूरा परिवार गमी में हो गया इसके बावजूद भी प्रवीण सिंह चौहान की समाज सेवा नहीं रुकी। गमी के कारण तीन दिन से वो खाना बाटने स्वयं नहीं आ पा रहे है लेकिन अपने छोटे भाई समान मित्र सौरभ सिंह रघुवंशी के जरिये भोजन पानी वितरण का कार्य अनवरत चालू रखे हुए है।

यह भी पढ़ें… कमल नाथ ने सीएम शिवराज को लिखा पत्र, कोरोना को लेकर की ये बड़ी मांग

प्रवीण सिंह से बात करने पर कि आप गमी में होने के बावजूद भी समाज सेवा में लगे हुए है, भोजन पानी का वितरण करवा रहे हैं, उन्होंने कहा कि कई लोग ऐसे है जो आस लगाए रहते है कि उन्हें भोजन पानी देने कोई आएगा। ऐसे में अगर हम भोजन पानी न बाटें तो मन अंदर से दुखी होता है इसलिए हम लोग भोजन पानी का वितरण लगातार कर रहे है और जब तक लॉक डाउन रहेगा भोजन पानी का वितरण किया जायेगा।