सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। सिंगरौली (Singrauli) में कोतवाली थाना पुलिस ने एक ऐसे अंतरराज्यीय कुख्यात चोर (thief) को गिरफ्तार किया है, जिसने लगभग 58 लाख से अधिक के इलेक्ट्रानिक सामानों की चोरी की है। आरोपी के कब्जे से कुल 33 नग फ़ोटो-वीडियो एवं ड्रोन कैमरे,153 मोबाइल, 7 लैपटॉप, 2 एलसीडी टीवी, 1 पोर्टेबल डीवीडी, 15 डीजे लाइट, एम्पलीफायर भारी संख्या में मोबाइल चिप, पेनड्राइव, बैटरी समेत अन्य सामान कुल लगभग 58 लाख का बरामद किया गया है।

यह भी पढ़ें…Khargone : दोस्तों के साथ पिकनिक मनाने गए पटवारी की नदी में डूबने से हुई मौत

जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय में सोमवार को दोपहर में आयोजित प्रेस वार्ता में उक्त घटना का खुलासा किया है। पुलिस अधीक्षक बीरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि गत दिवस 29 जून को फरियादी संतोष कुमार साहू का डेढ़ लाख रुपये का कीमती ड्रोन कैमरा बस स्टैंड के पास से चोरी हो गया था। और इसी तरह 29-30 जून की दरम्यानी रात दीपेश कुमार शाह के न्यू आकृति फ़ोटो स्टूडियो से डेढ़ लाख रुपये का कीमती ड्रोन कैमरा दुकान के शटर को तोड़कर चोरी कर लिया गया था। और इसी तरह 30 जून को राकेश शर्मा का 1 लाख 61,775 रुपये कीमती ड्रोन कैमरा मस्जिद तिराहा के पास से अज्ञात बदमाशों द्वारा मोटरसाइकिल से बैग समेत चोरी कर लिया गया था और साथ ही इसी प्रकार गत दिवस 1 जुलाई को अखिलेश कुमार का पैनासोनिक कैमरा ट्रामा सेंटर के पास से चोरी कर लिया गया था और उक्त सभी चोरियों की शिकायत कोतवाली थाना में दर्ज की गयी है।

वहीं कोतवाली क्षेत्र में इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की लगातार चोरी की वारदातों को देखते हुये पुलिस अधीक्षक सिंह ने एडिशनल एसपी अनिल सोनकर और सीएसपी देवेश पाठक को मॉनिटरिंग दायित्व सौंपा और साथ ही बैढन कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार पाण्डेय को टीमें गठित कर मुखबीर तंत्र को सक्रिय किया गया और इसी दरम्यान गत दिवस 4 जुलाई को मुखबीर द्वारा पुलिस को सूचना दी गयी कि विन्ध्यनगर थानांतर्गत नवजीवन विहार निवासी रामभजन शाह दो कैमरे बेचने की फिराक में घूम रहा है। जिसे पुलिस टीम ने आरोपी को कैमरे समेत रंगे हाथ पकड़ा और कैमरों की रसीद मांगने पर कोई दस्तावेज नही प्रस्तुत किया गया । जिसके बाद कोतवाली प्रभारी निरीक्षक पाण्डेय द्वारा अंतरराज्यीय शातिर अपराधी रामभजन से पूछताछ की गयी। तो उसने उक्त इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की चोरी की वारदात को स्वीकार करते हुये बताया कि वह विगत 4 वर्ष से सिंगरौली और यूपी के सोनभद्र जिले में विभिन्न शादी समारोहों में मौका पाते ही इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की चोरी कर अपने घर में रखता था। जिसमें कुछ उपकरणों को फर्जी रसीद गुरुनानक टेलीकॉम एन्ड इंटर सर्विस के नाम पर बेचना भी स्वीकार किया है। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर माल जब्त कर लिया।

आरोपी अकेले करता था चोरी
पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि कोतवाली पुलिस द्वारा दबोचे गये अन्तर्राज्यीय शातिर चोर द्वारा उक्त चोरी की घटनाओं को अकेले अंजाम देना बताया गया। जिसे की चोरी की वारदातों का खुलासा नहीं हो सके और उसने चोरी के मोबाइल फोन में किसका फोन है इसका चिट लिखकर रखता था। जिसे कब खोलना है इस बात की भी जानकारी चिट में लिखी रहती थी। वहीं पुलिस अधीक्षक सिंह ने कहा कि चोरो का खुलासा करने वाली टीम को पुरस्कृत किया जायेगा।

यह भी पढ़ें…CBSE Board: 10वीं-12वीं के छात्रों के लिए नई स्कीम का ऐलान, साल में 2 बार होंगी परीक्षाएं