इंदौर के इन विधायक ने सबकुछ किया दरकिनार और कोविड – 19 के लिहाज से पेश की ये मिसाल

इंदौर, आकाश धोलपुरे। जिले के एक वृहद राजनीतिक और आर्थिक गतिविधियों में आगे रहने वाले परिवार ने कोरोना को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है। जो अब समाज में एक मिसाल के तौर पर सामने आ रहा है।  इस परिवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संदेश ‘जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं’ उक्ति को आत्मसात कर एक बड़ा निर्णय लेकर समाज में संदेश दिया है। साथ ही सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना और मास्क पहनना कितना जरूरी है ये भी बताया है।

दरअसल, राजनीतिक रूप से बेहद ताकतवर परिवार के कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने अपने बेटे आकाश शुक्ला के परिणय उत्सव समारोह को प्रदेश सरकार और इंदौर प्रशासन की गाइडलाइन में मुताबिक सीमित कर दिया है। विवाह समारोह के 31 हजार निमंत्रण बंट चुके थे और अभी भी हजारों कार्ड बांटे जाने बाकी थे। इतना ही नहीं लाखों लोग कोविड-19 के दौर में सोशल डिस्टेसिंग का पालन कर विवाह समारोह में शिरकत कर सके, इस लिहाज से बायपास पर 5 एकड़ के बड़े परिसर में वैवाहिक आयोजन की तैयारी भी चल रही थी। लेकिन जब कोविड-19 की नई गाइडलाइन जारी की गई तो विधायक संजय शुक्ला ने उसका पालन करने के साथ ही आम लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए फैसला लिया की बड़े आयोजन को निरस्त किया जाए।

कम लोगों के बीच करेंगे शादी समारोह

अब विधायक अपने बेटे की शादी में महज 250 लोगों के बीच ही सभी रस्मे पूरी करेंगे, ताकि कोरोना से कोई प्रभावित न हो। कांग्रेस विधायक ने प्रदेश के सीएम शिवराज चौहान से लेकर पूर्व सीएम कमलनाथ सहित दिग्विजयसिंह और देश प्रदेश के दिग्गज बीजेपी और कांग्रेस नेताओं को निमंत्रण दे दिया था, लेकिन अब 9 दिसंबर बुधवार को होने वाले कार्यक्रम को निरस्त कर 250 लोगों के बीच वैवाहिक कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया है। फिलहाल, विधायक संजय शुक्ला के बेटे आकाश शुक्ला और शिल्पा शुक्ला के स्नेह भोज को कोरोना की वैक्सीन आने तक टाल दिया गया है।

 

इंदौर की विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 1 के कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने बताया कि कोरोना महामारी समाप्त होने के बाद ही बड़ा आयोजन किया जाएगा। जिसमें समूची विधानसभा में रहने वाले परिवार सहित सभी गणमान्य लोगों को आमंत्रित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वो पहले से ही कोविड काल में बेसहाराओं की मदद करते आये है और वर्तमान में शादी समारोह में होने वाले खर्च से अब कोविड पेशेंट का इलाज कराने के साथ ही महामारी की मार झेल रहे लोगों की मदद करेंगे।

शहरवासियों से की अपील

विधायक ने कहा कि हर कोई चाहता है, उनके बच्चों की शादी धूमधाम से हो, लेकिन वक्त की नजाकत को समझना भी जरूरी है। इसी लिहाज से उन्होंने शहरवासियों से अपील की है कि वे भी अपने मांगलिक आयोजन में कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करें। वहीं उन्होंने लोगों से अपील की है कि जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती है, तब तक सभी सतर्कता से सभी नियमों का पालन करें।

मेहमानों से मांगी माफी

वहीं विधायक संजय शुक्ला ने सोशल मीडिया पर एक पोस्टर भी जारी कर सभी आमंत्रित मेहमानों से क्षमा मांगी है। जिसमें लिखा गया है कि ‘हमारी खुशी शहर में संक्रमण का कारण न बने इसलिये आपसे क्षमा प्रार्थी है ! और आपके आभारी है।’फिलहाल, इंदौर में विधायक द्वारा उठाये गए कदम की प्रशंसा न सिर्फ राजनीतिक हल्कों में हो रही है, बल्कि प्रशासन भी इस कदम से खुश हैं। वही आम जनता  के बीच एक सकारात्मक संदेश भी गया है।

 

 

 

MP Breaking News MP Breaking News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here